Hindi News »Haryana »Bawal» बावल कॉलेज में रोल नंबर रोकने पर छात्रों ने किया हंगामा, तहसीलदार ने पहुंचकर कराया मामले का समाधान

बावल कॉलेज में रोल नंबर रोकने पर छात्रों ने किया हंगामा, तहसीलदार ने पहुंचकर कराया मामले का समाधान

बावल. राजकीय कॉलेज बावल के गेट पर ताला लगाकर नारेबाजी करते विद्यार्थी। भास्कर न्यूज| रेवाड़ी/ बावल राजकीय...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 26, 2018, 03:10 AM IST

बावल कॉलेज में रोल नंबर रोकने पर छात्रों ने किया हंगामा, तहसीलदार ने पहुंचकर कराया मामले का समाधान
बावल. राजकीय कॉलेज बावल के गेट पर ताला लगाकर नारेबाजी करते विद्यार्थी।

भास्कर न्यूज| रेवाड़ी/ बावल

राजकीय कॉलेज बावल में बुधवार को छात्रों ने प्रबंधन पर राेल नंबर नहीं देने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। इतना ही नहीं गुस्साए छात्र कॉलेज के गेट नंबर-1 पर ताला जड़कर धरने पर बैठ गए। मौके पर पहुंचे बावल तहसीलदार ने गुस्साए छात्रों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह रोल नंबर नही मिलने तक तालाबंदी पर अड़े रहे। छात्र एक प्रोफेसर पर भी कार्रवाई की मांग कर रहे थे। इसी छुट्‌टी पर चल रहे प्रिंसिपल कॉलेज पहुंचे और रोल नंबर देने सहित प्रोफेसर द्वारा मारपीट के आरोप की जांच का आश्वासन दिया गया तब जाकर करीब तीन घंटे बाद मामला शांत हो पाया।

प्रिंसिपल बोले पूरे साल कॉलेज नहीं आए इसलिए रोके गए रोल नंबर : कॉलेज के प्रिंसिपल नरेश कंसल ने कहा कि कुछ छात्र पूरे साल कॉलेज नहीं आए अब रोल नंबर के लिए हंगामा कर रहे हैं, यह ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि कॉलेज में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। शिक्षा विभाग की गाइड लाइन पर कार्य किया जा रहा है। छात्रों का एक गुट इस तरह के कामों लगा हुआ है। जो छात्र फाइनल में उनके भविष्य को देखते हुए रोल नंबर देने के बारे में विचार किया जा रहा है। वे नही चाहते की छात्रों का भविष्य खराब हो। इधर तहसीलदार मनीष यादव का कहना है कि कॉलेज प्रबंधन से बातचीत के बाद मामला शांत हो गया है। सुबह 9 बजे से चला हंगामा दोपहर 12 बजे शांत हो पाया। हंगामा करने वाले सतेंद्र झाबुआ, अंकित मोहम्मदपुर, राहुल जांगिड़ ,प्रीतम छिल्लर ,राहुल शाहपुर, सुमित रूध, मोहित खुरमपुर ,सुरेश खत्री, भूपेंद्र भडंगी व निलेश आदि कॉलेज छात्र मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bawal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×