• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे सफाई कर्मी, चरमराने लगी सफाई व्यवस्था
--Advertisement--

दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे सफाई कर्मी, चरमराने लगी सफाई व्यवस्था

भास्कर न्यूज | रेवाडी.बावल.धारूहेड़ा नगरपालिका कर्मचारी संघ की ओर से केंद्रीय कमेटी के आह्वान पर बुधवार से शुरू...

Danik Bhaskar | May 11, 2018, 03:10 AM IST
भास्कर न्यूज | रेवाडी.बावल.धारूहेड़ा

नगरपालिका कर्मचारी संघ की ओर से केंद्रीय कमेटी के आह्वान पर बुधवार से शुरू की गई भूख हड़ताल गुरुवार को दूसरे दिन भी जारी रही। बावल, धारूहेड़ा व रेवाड़ी नगर निकाय सफाई कर्मी सफाई छोड़ धरने पर बैठे रहे। तीनों जगहों पर दो दिन से सफाई नहीं होने व घरों से निकलने वाला कूड़ा नहीं उठने से लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। बता दें कि अकेले शहर में प्रतिदिन करीब 90 टन कूड़ा निकलता है। ऐसे में नगर परिषद अधिकारियों के पास लोगों को गंदगी से निजात दिलाने के लिए कोई योजना नहीं है।

धारूहेड़ा व बावल में दमकल कर्मी भी हड़ताल पर

धारूहेडा के पुराने मोहल्ले, कालोनियां तथा सभी व्यवसायिक स्थल कूड़े कचरे से अट गए हैं। नगरपालिका की तरफ से डंपिंग कूडे़ को उठाने की कोई भी व्यवस्था नहीं की गई है। जबकि सफाई कर्मियों की तीन दिवसीय हड़ताल की घोषणा सात मई को ही कर दी गई थी। सफाई कर्मचारी, जिनमें महिला सफाई कर्मचारी व फायर ब्रिगेड कर्मचारी विभिन्न मांगों को लेकर नपा कार्यालय के बाहर हड़ताल पर बैठे हुए हैं। धरना प्रदर्शन में नपा सफाई कर्मचारी प्रधान हिम्मत सिंह, राजू, बिजेंद्र, जितेन्द्र, विक्की, अनिल कुमार, आकाश, हरिकिशन, राजेश, ओमवीर, महिला सफाई कर्मी सुनीता, रजनी, अजयसिंह, शकुंतला , ममता देवी, आदि उपस्थित थी। इधर बावल में भी नपा एवं दमकल कर्मियों ने दूसरे दिन हड़ताल कर सरकार के खिलाफ हल्ला बोला। बता दें कि यूनियन की ओर से कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, समान वेतन समान काम, ठेका प्रथा बंद करने, खाली पड़े पदों को भरने सहित अन्य मांगों को पूरा करने की मांग की जा रही है। सर्वकर्मचारी संघ से संबंधित यूनियन पदाधिकारियों का कहना है कि 17 जुलाई 2017 काे सरकार व यूनियन के बीच मांगों को लेकर समझौता हो गया था। लेकिन आज तक एक भी मांग पूरी नहीं की गई।

रेवाड़ी. ठेका प्रथा बंद करने व कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने सहित विभिन्न मांगों को लेकर नगर परिषद कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन करते नगर पालिका कर्मचारी संघ के सदस्य।