Hindi News »Haryana »Bawal» राजस्थान पुलिस के खिलाफ वकील एकजुट, बोले- रेवाड़ी कोर्ट में नहीं आने देंगे

राजस्थान पुलिस के खिलाफ वकील एकजुट, बोले- रेवाड़ी कोर्ट में नहीं आने देंगे

भिवाड़ी के फूलबाग थाना पुलिस द्वारा रेवाड़ी जिला बार एसोसिएशन के प्रधान रवींद्र यादव समेत पांच वकीलों को शांतिभंग...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 15, 2018, 03:10 AM IST

राजस्थान पुलिस के खिलाफ वकील एकजुट, बोले- रेवाड़ी कोर्ट में नहीं आने देंगे
भिवाड़ी के फूलबाग थाना पुलिस द्वारा रेवाड़ी जिला बार एसोसिएशन के प्रधान रवींद्र यादव समेत पांच वकीलों को शांतिभंग करने के आरोप में गिरफ्तार करने के बाद शुरू हुआ विवाद अभी थमा नहीं है। वकीलों सोमवार को जिला बार रूम में बैठक कर राजस्थान पुलिस के खिलाफ माेर्चा खोलते हुए उन्हें रेवाड़ी कोर्ट में उपस्थित नहीं होने देने की बात कही। पुलिस के खिलाफ बार एसोसिएशन सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा भी खटखटाएगी। वहीं बार एसोसिएशन ने भिवाड़ी व अलवर बार एसोसिएशनों का भी सहयोग मांगा जाएगा।

वकीलों के खिलाफ मामला

भिवाड़ी में शांतिभंग के आरोप में वकीलों पर की गई थी कार्रवाई, मामले में राजस्थान पुलिस के खिलाफ जाएंगे सुप्रीम कोर्ट

बोले- बिना एफआईआर बंद रखा था व्यक्ति को

सोमवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए जिला बार एसोसिएशन पदाधिकारियों व सदस्यों ने कहा कि 11 मई अधिवक्ता विजय यादव फूलबाग थाने में अपने किसी परिचित से मिलने गए थे। आरोप है कि उक्त व्यक्ति को पुलिस ने चोरी के आरोप में जेल में बंद किया हुआ था, जबकि उसके खिलाफ एफआईआर तक दर्ज नहीं की गई थी। विजय यादव ने बगैर एफआईआर के दर्ज करने का कारण पूछा तो पुलिसकर्मियों ने अभद्रता शुरू कर दी। जब विजय ने रिकॉर्डिंग करने की बात कही तो पुलिस ने धक्का मारा तथा उनके साथ हाथापाई करते हुए हवालात में बंद कर दिया। यहां तक कि उनके कपड़े भी उतरवा दिए गए। जब विजय यादव को लॉकअप में बंद करने की सूचना रेवाड़ी बार प्रधान रवींद्र यादव, सुरेश राव, दिनेश कौशिक व जोगेंद्र राव फूलबाग थाने पहुंचे। उन्होंने कहा कि वहां पुलिसकर्मियों ने विजय यादव नाम के व्यक्ति के थाने में होने की बात से इनकार कर दिया गया। आवाज सुनकर विजय ने आवाज लगाई तो वे लोग अंदर पहुंचे। यहां विजय से मिलने के लिए कहा तो पुलिसकर्मियों ने मना कर दिया। उल्टा उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया तथा उनसे मारपीट की। एडवोकेट सुरेश राव को अधिक चोटों के चलते अलवर रेफर किया गया। सुरेश राव ने कहा कि बाद में उन्होंने रेवाड़ी में भी मेडिकल कराया, जिसमें उन्हें चोट लगना स्पष्ट हुआ है।

रेवाड़ी. पत्रकारवार्ता करते बार एसोसिएशन के पदाधिकारी।

शराब पीने का आरोप झूठा मेडिकल में नहीं हुई पुष्टि

उन्होंने कहा कि राजस्थान पुलिस ने उनके खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज किए हैं। उन पर शराब पीने के आरोप लगाए गए, मगर उन्होंने शराब नहीं पी थी, जिसकी मेडिकल में पुष्टि नहीं हुई। बल्कि पुलिसकर्मियों ने शराब पी हुई थी। इस मौके पर बावल बार प्रधान ज्ञान सिंह, रेवाड़ी बार उपप्रधान राजीव यादव, सचिव प्रबोध यादव, कोषाध्यक्ष विशाल यादव, विश्वामित्र, रजवंत डहीनवाल, चौ. चरण सिंह, अजीत सिंह, प्रदीप कुमार व करण आदि अधिवक्ता मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bawal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×