• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • दिन-रात बिजली सप्लाई रहना ग्रामीणों के बीच में रहा चर्चा का विषय
--Advertisement--

दिन-रात बिजली सप्लाई रहना ग्रामीणों के बीच में रहा चर्चा का विषय

बावल उपमंडल के गांव खण्डौडा में गुरुवार को प्रशासनिक शिविर एवं रात्रि ठहराव के दौरान ग्रामीणों ने स्वास्थ्य से...

Danik Bhaskar | May 25, 2018, 03:10 AM IST
बावल उपमंडल के गांव खण्डौडा में गुरुवार को प्रशासनिक शिविर एवं रात्रि ठहराव के दौरान ग्रामीणों ने स्वास्थ्य से लेकर शराब ठेके हटाने जैसी करीब 102 शिकायतें डीसी पंकज के सामने रखी। डीसी ने भी मौके पर मौजूद अधिकारियों को समस्याओं के समाधान के निर्देश दिए। इधर, गांव में दिन-रात बिजली सप्लाई रहने का विषय भी ग्रामीणों में चर्चा का विषय बना रहा। इस दौरान एसपी राजेश दुग्गल सहित प्रशासन के आला अधिकारी मौजूद रहे। इस दौरान छात्राओं के लिए खंडोदा से रेवाड़ी तक रोडवेज बस चलाने के निर्देश दिए गए।

एक हफ्ते में बीपीएल कार्ड का होगा सर्वे

रात्रि ठहराव में ग्रामीणों की ओर से बीपीएल कार्ड नहीं बनाने की समस्या रखी गई। इस पर डीसी ने एक सप्ताह के अंदर सर्वे कराकर कार्ड बनाने की बात कही। पीएमएवाई के तहत मकान बनाने के लिए आए हुए आवेदनों के बारे में उपायुक्त ने कहा कि इसके लिए सर्वे करवाया जाएगा। ग्रामीण बाबूलाल ने देहदान करने की इच्छा उपायुक्त को कही, इस पर उपायुक्त ने सीएमओ को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

कार्यक्रम में करण सिंह ने उपायुक्त से आग्रह किया कि उनकी बेटी को हिमोफिलिया है तथा डॉक्टर इनका इंजेक्शन नहीं लगाते हैं। जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉ. अजीत सिंह ने गुरुवार को सुबह छह बजे अधिकारियों को योग करवाया। खण्डौडा गांव के सरपंच सत्यनारायण ने गांव में रात्रि ठहराव व खुला दरबार लगाने को गांव के लिए महत्त्वपूर्ण बताया।

स्वास्थ्य से लेकर शराब ठेका हटाने तक की आईं शिकायतें