• Hindi News
  • Haryana
  • Bawal
  • जिले के 4 स्कूलों को नहीं मिले डोंगल, 100 से ज्यादा अध्यापकों और स्टाफ की अटकी सैलरी
--Advertisement--

जिले के 4 स्कूलों को नहीं मिले डोंगल, 100 से ज्यादा अध्यापकों और स्टाफ की अटकी सैलरी

शिक्षा विभाग की ओर से डिजिटल सिग्नेचर के लिए जिला में 247 डाेंगल प्रदान किए गए थे। इनमें 4 स्कूलों को अब तक डोंगल नहीं...

Dainik Bhaskar

Jul 05, 2018, 03:10 AM IST
जिले के 4 स्कूलों को नहीं मिले डोंगल, 100 से ज्यादा अध्यापकों और स्टाफ की अटकी सैलरी
शिक्षा विभाग की ओर से डिजिटल सिग्नेचर के लिए जिला में 247 डाेंगल प्रदान किए गए थे। इनमें 4 स्कूलों को अब तक डोंगल नहीं मिलने से उन स्कूलों के शिक्षकों सहित 100 से ज्यादा कर्मचारियों को पिछले दो माह से सैलरी नहीं मिल पाई है। इसे लेकर अब हरियाणा स्कूल लेक्चरर एसोसिएशन की ओर से जिला शिक्षा अधिकारी के साथ ही चंडीगढ़ कार्यालय में भी शिकायत दी जा चुकी हैं, लेकिन अब तक समाधान नहीं हो पाया है। हसला की ओर से समाधान न होने पर अब अनशन की तैयारी है।

हसला के जिला प्रधान हरीश यादव ने प्रेस को जारी बयान में कहा कि जिले के चार स्कूलों के लगभग 100 कर्मचारियों को पिछले दो महीने से वेतन नहीं मिला है। मार्च माह में सरकार ने डीडीओ के डोंगल सिग्नेचर(डिजिटल) जारी किए थे। उस समय जिला को 247 डोंगल मिले थे। लेकिन इनमें 11 स्कूलों के डोंगल वितरित करते समय नाम, पता व ई-मेल आईडी में कुछ त्रुटियां पाई गई थी। इनमें कुछ ठीक हो गए, लेकिन अभी भी बावल ब्लॉक के 4 स्कूलों को डोंगल नहीं मिल पाए हैं। उन्होंने कहा कि डीईओ व निदेशक पंचकूला को भी शिकायत दी जा चुकी है। निदेशक पंचकूला कार्यालय से जवाब मिलता है कि डोंगल समाप्त हो गए हैं।

जिले के इन स्कूलों को नहीं मिले डोंगल

जिले में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बधराना, जीएचएस सुठानी, जीएचएस धारण व जीएमएस खिजूरी शामिल हैं। हसला की ओर से जल्द इस दिशा में समाधान कराने की मांग उठाई है। उन्होंने कहा कि अगर समस्या का समाधान नहीं होता है तो 11 जुलाई से अनशन शुरू किया जाएगा।

बिना सिग्नेचर नहीं मिल सकती है सैलरी

शिक्षा विभाग की ओर से डिजिटल सिग्नेचर के लिए डोंगल जारी किए गए हैं। जब तक डिजिटल सिग्नेचर नहीं होंगे तब तक अकाउंट से पैसे नहीं निकाल सकते हैं। ऐसे में इन स्कूलों के शिक्षकों व अन्य स्टाफ की सैलरी भी अटकी हुई है। डोंगल मिलने पर ही इनकी सैलरी मिल सकती है।

X
जिले के 4 स्कूलों को नहीं मिले डोंगल, 100 से ज्यादा अध्यापकों और स्टाफ की अटकी सैलरी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..