• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • लर्निंग लेवल टेस्ट की तैयारी जांचने एसडीएम पहुंचे माध्यमिक स्कूल
--Advertisement--

लर्निंग लेवल टेस्ट की तैयारी जांचने एसडीएम पहुंचे माध्यमिक स्कूल

एसडीएम जितेंद्र कुमार ने कहा कि शिक्षक पढ़ाई के कार्य को पेशे के साथ-साथ समाज की भलाई का कार्य भी समझें। यदि वे...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 03:10 AM IST
एसडीएम जितेंद्र कुमार ने कहा कि शिक्षक पढ़ाई के कार्य को पेशे के साथ-साथ समाज की भलाई का कार्य भी समझें। यदि वे शिक्षा के क्षेत्र में पूरी मेहनत और लगन से कार्य करेंगे तो बच्चों का भविष्य सुधरने से वे देश के अच्छे नागरिक तैयार होंगे। एसडीएम गुरुवार को राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रेवाड़ी के स्कूल का औचक निरीक्षण कर मूल्यांकन कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि स्कूलों में पढ़ाई के क्षेत्र में जो बच्चे कमजोर हैं, उन्हें कमजोर न कहकर अच्छा वातावरण दें तथा उन पर स्कूल से पहले व स्कूल के बाद अलग से समय देकर शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करें। ऐसे बच्चे समय-समय पर प्रोत्साहन और प्रेरणा से आगे बढ़ेंगे तथा शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे परिणाम लाकर शिक्षा सुधार की दिशा में अच्छा प्रयास करेंगे।

उन्होंने बताया कि शिक्षा सुधार कार्यक्रम राज्य सरकार का महत्वपूर्ण फ्लैगशिप कार्यक्रम है तथा समय-समय पर वरिष्ठ अधिकारी इस कार्यक्रम की निगरानी कर रहे हैं। ताकि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करके स्कूली शिक्षा को उच्च मापदंडों पर लाकर परिणाम में सुधार लाया जाए।

निरीक्षण

दो अगस्त को नाहड़ ब्लॉक का लर्निंग लेवल एसेस्मेंट टेस्ट होगा, एसडीएम ने बच्चों को किया प्रेरित

रेवाड़ी. राजकीय कन्या विद्यालय में निरीक्षण के दौरान छात्राओं से बात करते एसडीएम जितेन्द्र कुमार।

गणित व हिंदी के पूछे प्रश्न, विद्यार्थियों का जांचा स्तर : उन्होंने विद्यार्थियों से गणित व हिन्दी के प्रश्न पूछकर विद्यार्थियों के स्तर को जांचते हुए कहा कि अध्यापकों द्वारा विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम अनुसार सही शिक्षा दी जाएं। बच्चों के शैक्षणिक स्तर को बढाने के लिए जिला के खोल, बावल व रेवाड़ी खंड के सितंबर माह में टेस्ट कराने के लिए नोमिनेशन मुख्यालय हुआ है। वहां से जिस ब्लॉक का चयन होगा, उसका टेस्ट सितंबर के प्रथम सप्ताह में लिया जाएगा। इसे लेकर जिला के अधिकारी स्कूलों की कक्षाओं में जाकर शिक्षा के स्तर में सुधार लाने का कार्य कर रहे हैं। इसी उद्देश्य से एसडीएम रेवाड़ी ने कन्या स्कूल में पहुंचकर शिक्षा के लिए बच्चों व शिक्षकों को प्रोत्साहित किया। उन्होंने लर्निंग लेवल टेस्ट में गणित व हिन्दी के वस्तुनिष्ठ सवाल भी बच्चों से पूछे। बता दें कि दो अगस्त को नाहड़ ब्लॉक का लर्निंग लेवल एसेस्मेंट टेस्ट होगा।