• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • जय किसान आंदोलन सदस्यों ने पंच और सरपंचों को दिया किसान पंचायत का निमंत्रण
--Advertisement--

जय किसान आंदोलन सदस्यों ने पंच और सरपंचों को दिया किसान पंचायत का निमंत्रण

रेवाड़ी | नई अनाज मंडी में एमएसपी मूल्य को लेकर जय किसान आंदोलन की ओर से 10 मई को धरनास्थल पर ही किसान मुक्ति दिवस का...

Danik Bhaskar | May 08, 2018, 03:15 AM IST
रेवाड़ी | नई अनाज मंडी में एमएसपी मूल्य को लेकर जय किसान आंदोलन की ओर से 10 मई को धरनास्थल पर ही किसान मुक्ति दिवस का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान किसानों की महापंचायत भी होगी। जिसमें मुद्दा होगा कि जिन किसानों की फसल मंडी में सरकारी रेट से कम दाम पर खरीद हुई है। उनको भावांतर योजना के तहत हुए नुकसान की भरपाई की जाए।

किसानों की पूरी फसल एमएसपी रेट पर मंडी में बिक्री हो तथा थोपी गई शर्तें हटाई जाएं, सरसों की खरीद भी गेहूं की खरीद की तरह अनाज मंडी में हो आदि विषयों पर जनप्रतिनिधि व प्रशासनिक अधिकारी तथा किसानों में आमने-सामने विचार विमर्श होगा। गांव टींट के किसान सुजान सिंह ने धरना स्थल पर बताया कि सोमवार को रोस्टर प्रणाली के अनुसार उसके गांव का बावल मंडी में सरसों बिक्री करने की बारी थी, लेकिन मंडी में काफी भीड़ होने के कारण उनके गांव की खरीद बावल मंडी में नहीं हो पाई। सदस्यों ने इस दौरान जिला के पंच-सरपंचों को भी किसान पंचायत में आने का निमंत्रण दिया गया। इस मौके पर मास्टर धर्म सिंह, सतप्रकाश शर्मा, एडवोकेट कुसुम यादव, लक्ष्मण सिंह जांगिड़, सतपाल, जगमाल सिंह लोधाना, स्वामी सुधानंद योग आश्रम लालपुर, स्वामी सुखानंद, सरपंच कंवर सिंह बोलनी, धर्मपाल नम्बरदार, रामवतार, अमृत लाल चिमनावास, हरिकिशन ओलांत, तोताराम, जौहरी सिंह, अमीचंद टींट व राजबाला यादव सहित अन्य मौजूद रहे।