• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • बावल मंडी में खरीद में किसानों ने लगाया अव्यवस्था का आरोप, बोले-शेड्यूल के अनुसार नहीं खरीदी जा रही सरसों
--Advertisement--

बावल मंडी में खरीद में किसानों ने लगाया अव्यवस्था का आरोप, बोले-शेड्यूल के अनुसार नहीं खरीदी जा रही सरसों

बावल की अनाज मंडी में अपनी सरसों की फसल को बिक्री करने के लिए आए आधा दर्जन से ज्यादा गांवों के लोगों ने खरीद में...

Danik Bhaskar | May 08, 2018, 03:15 AM IST
बावल की अनाज मंडी में अपनी सरसों की फसल को बिक्री करने के लिए आए आधा दर्जन से ज्यादा गांवों के लोगों ने खरीद में अव्यवस्था का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि जिन गांवों की आज सरसों बिक्री होनी थी, उनको बिना बिक्री किए ही घर वापस लौटना पड़ रहा है। किसानों का कहना है कि टीनशेड में जगह का अभाव बताकर खरीद नहीं की जा रही है। हालांकि हैफेड के डीएम नीरज त्यागी का कहना है कि सोमवार को 2 हजार क्विंटल से ज्यादा सरसों खरीदी गई है।

मंडी में बिक्री करने के लिए विभिन्न गांवों से पहुंचे राधाकृष्ण, हरीशचंद्र, मनोज, दीपक, सुरेंद्र, प्रमोद, पवन व जिले सिंह सहित अन्य किसानों ने बताया कि सोमवार को टींट, भांडौर, हुसैनपुर, सुबासेड़ी, चित्रपुरी सहित 10 से ज्यादा गांवों का शेड्यूल था। जब वे मंडी में पहुंचे तो वहां एक ही टीन शैड बताकर खरीद करने से इनकार कर दिया गया। ग्रामीणों का कहना था कि एक तो उनकी अनाज मंडी रेवाड़ी पड़ती है, लेकिन फिर भी उनको बावल से जोड़ दिया गया। अब जब वे सरसों बिक्री करने पहुंचे तो उनकी सरसों खरीद नहीं हो पा रही है। किसानों ने बताया कि वे पूरे कागजात लेकर पहुंचे थे, लेकिन खरीद न होने से उनको काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

इधर, हैफेड के डीएम नीरज त्यागी ने बताया कि जिला की तीनों मंडियों में खरीद जारी है। सोमवार को बावल की मंडी में 2 हजार क्विंटल से ज्यादा सरसों खरीद की गई है। रही बात उठान की तो सरसों वेयर हाउस के गोदाम में लगती है। सुबह नए गोदाम में भंडारण शुरू करा दिया जाएगा।

रेवाड़ी. बावल अनाज मंडी में अनाज की बोरियों पर बैठे किसान।

उठान न होने से टीनशेड में लगी सरसों की बोरियां

किसानों ने बताया कि मंडी में एक ही टीनशेड है, जिसमें पिछले कई दिनों से खरीदी गई सरसों का ही उठान नहीं हो पाया है। उठान न होने से खरीद में भी दिक्कत आ रही है।