Hindi News »Haryana »Bawal» नहरी पानी के लिए इनेलो का जेल भरो आंदोलन 19 जून को

नहरी पानी के लिए इनेलो का जेल भरो आंदोलन 19 जून को

रेवाड़ी. 19 जून को जेल भरो आंदोलन को लेकर बैठक करते इनेलो कार्यकर्ता। भास्कर न्यूज | रेवाड़ी इंडियन नेशनल लोकदल के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 16, 2018, 03:15 AM IST

नहरी पानी के लिए इनेलो का जेल भरो आंदोलन 19 जून को
रेवाड़ी. 19 जून को जेल भरो आंदोलन को लेकर बैठक करते इनेलो कार्यकर्ता।

भास्कर न्यूज | रेवाड़ी

इंडियन नेशनल लोकदल के वरिष्ठ नेता एवं बावल हल्का के प्रभारी एडवोकेट जसवीर सिंह ढिल्लो व एचपीएससी के पूर्व सदस्य सतवीर सिंह बड़ेसरा ने 19 जून को रेवाड़ी अनाज मंडी में होने वाले जेल भरो आंदोलन की तैयारियों को लेकर बावल पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित की गई। इसकी अध्यक्षता इनेलो के वरिष्ठ नेता डॉ. राजपाल यादव ने की।

कार्यकर्ताओं को दिशा-निर्देश देते हुए ढिल्लो ने पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की टीम बनाकर जिम्मेदारियां लगाई और कहा कि आज दक्षिण हरियाणा की सबसे बड़ी जरूरत पानी है और उसी पानी को लाने के लिए इंडियन नेशनल लोकदल पार्टी चौधरी अभय सिंह चौटाला के नेतृत्व में संघर्षरत है। जबकि सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आने के बावजूद भी बीजेपी सरकार द्वारा एसवाईएल का निर्माण नहीं कराया गया जो कि इस नहर का पानी हरियाणा की जीवन रेखा है।

ऐसे में नहर के पानी आने तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। इस मौके पर राव होशियार सिंह, रामकिशन छिल्लर, जगदीश प्रसाद डहीनवाल, श्याम सुंदर सबरवाल डॉ. संजय मेहरा, विनोद शर्मा बावल, चौ. देवीराम, माड़ाराम, सुंडाराम, झम्मन सिंह, सुमेर सिंह बनीपुर, बच्चू सिंह, डॉ. रविंद्र कुमार, महेंद्र सिंह, सतपाल, राजू बावल, वेदप्रकाश, गोपाल सिंह ओढ़ी, लक्ष्मी बाई, किशोरी लाल, शीशराम चोकन, बीडी यादव, ललित टीकला, रमेश कुमार, मंशाराम खिजूरी, सम्पत राम डहनवाल, महाबीर चोपड़ा, एडवोकेट रजवंत सिंह डहीनवाल, डॉ. आनंद राज, एडवोकेट राकेश कुमार, एडवोकेट जयभगवान गहलोत, जीत राम झाबुआ, माया चंद, ढिल्लू सुलखा, अमन कुमार व जसवंत सिंह सहित इनेलो- बसपा पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी व अन्य मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bawal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×