• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • आरक्षित वार्डों को लेकर स्पीकिंग ऑर्डर जारी करें
--Advertisement--

आरक्षित वार्डों को लेकर स्पीकिंग ऑर्डर जारी करें

शहर की नई वार्डबंदी का फाइनल नोटिफिकेशन होने का सभी को इंतजार है। अंतिम प्रकाशन से पहले कई तरह के कयास लगाए जा रहे...

Danik Bhaskar | Jun 05, 2018, 03:20 AM IST
शहर की नई वार्डबंदी का फाइनल नोटिफिकेशन होने का सभी को इंतजार है। अंतिम प्रकाशन से पहले कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। अब डीसी पंकज ने नगर परिषद ईओ मनोज यादव को पत्र लिखकर आरक्षित वार्डों को लेकर स्पीकिंग ऑर्डर जारी करने को कहा है। इसमें कहा गया है कि हाईकोर्ट द्वारा दी गई गाइडलाइन के अनुसार ही चलें। बता दें कि वर्ष 2005 में शहर में एससी-एसटी के लिए 6 आरक्षित वार्ड थे। वर्ष 2013 के चुनावों में आरक्षित वार्डों की संख्या घटाकर 5 कर दी गई। इस बार आरक्षित वार्ड फिर से 6 किए गए हैं। जबकि आबादी के अनुसार 7 वार्ड आरक्षित किए जाने की मांग उठाई जा रही है।

आरक्षित वार्डों की संख्या बढ़ाने के लिए डॉ. बीआर आंबेडकर सोशल वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से मोहल्ला विकास नगर निवासी परमानंद व आरएस सांभरिया ने निर्वाचन आयोग व प्रशासन को पत्र भेजे थे। इसके अलावा धारूहेड़ा गेट निवासी भारत ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। इस याचिका पर हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार, निदेशक व डीसी को आरक्षित वार्डों की संख्या आबादी के अनुरूप किए जाने के मामले में स्पीकिंग ऑर्डर जारी करने के आदेश दिए थे। नप ईओ का कहना है कि डीसी की ओर से स्पीकिंग ऑर्डर जारी करने को लेकर पत्र मिला है। हाईकोर्ट की गाइडलाइन को ही अमल में लाया जाएगा।


ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत, पहचान नहीं

भास्कर न्यूज | बावल

बावल क्षेत्र के गांव चिरहाड़ा में रेलवे लाइन के पास एक युवक की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। युवक की पहचान नहीं हो पाई है। जीआरपी से जांचकर्ता हेड कांस्टेबल सुरेंद्र कुमार ने बताया कि सोमवार को सूचना मिली थी कि एक युवक अचेत हालत में रेलवे लाइन के पास पड़ा हुआ है। मौके पर पहुंचकर जांच की तो वह मृत अवस्था में था।

युवक के शरीर पर सिर्फ अंडरवियर था। पुलिस को अंदेशा है कि शौच आदि के लिए जाते समय युवक किसी ट्रेन की चपेट में आ गया। पहचान के लिए शव को बावल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया गया है।