• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • बावल में अतिक्रमण के खिलाफ सख्त कार्रवाई दो दिन में 65 रेहड़ी जब्त, 32 हजार के चालान
--Advertisement--

बावल में अतिक्रमण के खिलाफ सख्त कार्रवाई दो दिन में 65 रेहड़ी जब्त, 32 हजार के चालान

बावल कस्बा में अतिक्रमण के खिलाफ आखिर कार्रवाई शुरू हो गई है। नगर पालिका सचिव के निर्देश पर कर्मचारियों ने यहां के...

Danik Bhaskar | May 27, 2018, 04:10 AM IST
बावल कस्बा में अतिक्रमण के खिलाफ आखिर कार्रवाई शुरू हो गई है। नगर पालिका सचिव के निर्देश पर कर्मचारियों ने यहां के छोटूराम चौक से भगतराम चौक तक अतिक्रमण हटाया। सड़क के बीचों-बीच लगने वाली दर्जनों रेहड़ियों को जब्त करने के अलावा उनके चालान भी किए गए। अतिक्रमण हटने के बाद बावल का मेन बाजार अब खुला-खुला नजर आने लगा है।

भगतराम चौक से छोटूराम चौक तक कुछ सालों से रेहड़ी लगाने वालों ने कब्जा जमाया हुआ था, जिसकी वजह से बावल के इस मेन बाजार में हर समय जाम की स्थिति बनी रहती थी। स्थानीय लोगों ने कई बार प्रशासन को शिकायत की, लेकिन एक बार कार्रवाई करने के बाद फिर से रेहड़ी वाले कब्जा जमाने के लिए उतर आते थे। कुछ दिन कार्यभार संभालने वाले नगर पालिका सचिव कर्मबीर यादव ने चार दिन पहले ही रेहड़ी वालों को चेतावनी देते हुए उन्हें निर्धारित स्थान पर रेहड़ी लगाने के आदेश दिए थे, लेकिन उसके बाद भी रेहड़ी चालकों ने अतिक्रमण नहीं हटाया। टीम गठित कर नपा द्वारा पुलिस के सहयोग से अभियान शुरू किया गया। पुलिस बल की मौजूदगी में कई रेहड़ी को जब्त किया गया। इसके अलावा कई रेहड़ी वाले भाग निकले। सड़क से अतिक्रमण हटने के बाद अब जाम से भी मुक्ति मिलती दिखाई दे रही है।

दिनभर रहती थी जाम की स्थिति : भगतराम चौक से छोटूराम चौक तक अतिक्रमण के कारण पूरे दिन सड़क जाम रहती थी। अगर कभी नगर पालिका कर्मचारी उन्हें हटाने की कोशिश भी करते तो रेहड़ी वाले गुंडागर्दी पर उतारू हो जाते थे। शुक्रवार को शुरू किए गए अभियान में अब तक नगर पालिका ने 65 रेहड़ी जब्त की है, जिनके चालान भी किए गए है। नगर पालिका को 32 हजार 500 रुपए का राजस्व मिला है।

आगे भी जारी रहेगा अभियान : सचिव : रेहड़ी चालकों के कारण पूरी सड़क ब्लॉक हो जाती थी। हमने चार दिन पहले ही रेहड़ी वालों को निर्धारित स्थान पर रेहड़ी लगाने का निर्देश दिए थे, लेकिन अमल नहीं किया गया। पुलिस की सहायता से दो दिन में 65 रेहड़ी जब्त की है। 32 हजार के ज्यादा के चालान किए जा चुके हैं। यह अभियान आगे भी जारी रहेगा। -कर्मबीर यादव, सचिव, नगर पालिका, बावल।

भगतराम चौक से छोटूराम चौक तक रेहड़ियों को नपा ने हटवाया

रेवाड़ी. बावल में नगर पालिका द्वारा बाजार से जब्त की गई रेहड़ियां।

लंबित मांगों को लेकर चौकीदारों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

रेवाड़ी | एजुसेट चौकीदारों ने मांगों को लेकर डीसी के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया गया कि में जिला में 136 एजुसेट चौकीदार 2007 से कार्यरत हैं। उन्हें महज एक हजार रुपए प्रतिमाह वेतन मिल रहा है। 2011 में हरियाणा राज्य चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों के साथ हरियाणा सरकार के अधिकारियों की बैठक हुई थी। बैठक में चौकीदारों को सरकारी न्यूनतम वेतन, साप्ताहिक अवकाश व अन्य मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया गया था। लेकिन सात साल बीत जाने के बाद एक भी मांग पूरी नहीं हो पाई है। इस अवसर पर भाजपा नेता सतीश खोला, धर्मबीर मसीत, मंगल सिंह कोसली ,जगराम, जसवंत सिंह खोरी, मनोज कारोली, मुन्नीलाल ठोठवाल, महावीर महालियाकी, बिजेंद्र ढाणी फिरोज नगर ,राम किशन जीवड़ा, देशराज रामगढ़, सुरेश बसई, महावीर झाड़ोदा व अन्य लोग मौजूद रहे।