• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • बच्ची को ढूंढ़वाने का करता रहा नाटक, फिर किया खुलासा पोर्न फिल्म देख किया रेप, हत्या कर शव को अलमारी में छिपा दिया
--Advertisement--

बच्ची को ढूंढ़वाने का करता रहा नाटक, फिर किया खुलासा पोर्न फिल्म देख किया रेप, हत्या कर शव को अलमारी में छिपा दिया

बावल क्षेत्र के गांव में 8 वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या की वारदात से सनसनी फैल गई। पड़ोस में ही रहने वाले...

Danik Bhaskar | Jun 09, 2018, 04:10 AM IST
बावल क्षेत्र के गांव में 8 वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या की वारदात से सनसनी फैल गई। पड़ोस में ही रहने वाले युवक उत्तर प्रदेश के हाथरस निवासी 22 वर्षीय सन्नी ने इस वारदात को अंजाम दे दिया।

पुलिस जांच के लिए पहुंची ताे परिवार का हितैषी बनकर बच्ची काे ढूंढ़ने में मदद का नाटक करता रहा। करीब घंटेभर तक पुलिस को चक्कर कटाता रहा। शक होने पर पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी ने दरिंदगी के राज उगलने शुरू कर दिए। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस उसके कमरे में पहुंची तो अलमारी में बच्ची का शव बरामद हुआ। पुलिस ने चंद घंटे में तत्परता से इस वारदात को सुलझा लिया तथा आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ पोक्सो एक्ट व हत्या की धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया।


कपड़े से घोंटा गला, हाथ-पैर व मुंह बांधकर छिपाया शव

मध्य प्रदेश निवासी एक व्यक्ति अपनी दो बेटियों व प|ी के साथ गांव में किराए पर रह रहा है। शुक्रवार को वह अपनी प|ी के साथ छोटी बेटी को दवा दिलाने के लिए बावल चला गया। उनकी 8 वर्षीय बेटी घर पर अकेली थी। दोपहर को दंपत्ति वापस लौटे तो बच्ची घर से लापता मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने गांव व आस-पास बच्ची की तलाश शुरू की। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। सूचना पर खुद एसपी राजेश दुग्गल, डीएसपी सतपाल यादव व कसौला एसएचओ मौके पर पहुंचे। पुलिस को पता लगा कि पड़ोस में रहने वाला सन्नी दिन में अपने कमरे पर ही था। पुलिस ने उससे पूछताछ की तो वह बच्ची को ढूंढवाने की मदद करने का नाटक करने लगा। एक घंटे तक पुलिस को कभी रेलवे स्टेशन तो कभी इधर-उधर चक्कर कटाता रहा। संदेह होने पर पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने वारदात के राज उगल दिए। सन्नी के कमरे में पुलिस ने तलाशी ली तो अलमारी से बच्ची का शव बरामद हुआ। जिसके हाथ-पैर व मुंह बंधा हुआ था। पुलिस को सन्नी ने बताया कि उसने बच्ची से रेप किया था। फंसने के डर से उसने चुन्नी जैसे कपड़े से बच्ची की गला दबाकर हत्या कर दी।

रेवाड़ी. बच्ची की हत्या मामले में ग्रामीणों से पूछताछ करते एसपी व डीएसपी ।

सप्ताहभर से अकेला था युवक, बच्ची को बुलाया कमरे में

आरोपी यूपी के हाथरस निवासी सन्नी अविवाहित है तथा कुछ समय पहले ही अपनी बहन के पास इस गांव में आया था। उसकी बहन व बहनोई इसी मकान में किराए पर रह रहे थे। मकान में 10-12 कमरे बने हुए हैं, जिनमें से एक में बच्ची भी अपने परिवार के साथ रह रही थी। बहन-बहनोई सप्ताहभर पहले गांव चले गए थे, तब से वह अकेला था। युवक ने पुलिस के सामने बताया कि उसने मोबाइल में अश्लील फिल्म (पोर्न) देखी । इसी दौरान उसे अकेली बच्ची नजर आई तो उसने उसे कमरे में बुला लिया तथा दरिंदगी की। पुलिक की शुरूआती पूछताछ में सामने आया कि दिन में बच्ची की हत्या कर देने के कारण युवक का फंसने का डर था, इसलिए शव छिपा दिया। उसका प्लान रात में शव को ठिकाने लगाने का था।


फिर वही सवाल... सत्यापन क्यों नहीं

धारूहेड़ा व बावल औद्योगिक क्षेत्रों में बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों के श्रमिक काम कर रहे हैं। हजारों लोग बावल व धारूहेड़ा के साथ ही रेवाड़ी शहर में रह रहे हैं। लेकिन किराएदारों के सत्यापन का कानून केवल कागजों में सिमटा है। खानापूर्ति के लिए पुलिस ने एक-दो बार प्रयास किए, फिर काम बंद कर दिया। यहां तक कि कई केस में मकान मालिक किराएदार का असल नाम और पता तक नहीं जानता।