• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • एसडीएम जितेंद्र बने बोडि़या कमालपुर स्कूल में एक दिन के शिक्षक, बच्चों से बोर्ड पर हल करवाए सवाल
--Advertisement--

एसडीएम जितेंद्र बने बोडि़या कमालपुर स्कूल में एक दिन के शिक्षक, बच्चों से बोर्ड पर हल करवाए सवाल

रेवाड़ी. बोड़िया कमालपुर के राजकीय विद्यालय में निरीक्षण के दौरान छात्र से सवाल हल करवाते व शिक्षकों को दिशा...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 04:10 AM IST
रेवाड़ी. बोड़िया कमालपुर के राजकीय विद्यालय में निरीक्षण के दौरान छात्र से सवाल हल करवाते व शिक्षकों को दिशा निर्देश देते एसडीएम जितेन्द्र कुमार।

भास्कर न्यूज | रेवाड़ी

एसडीएम जितेंद्र कुमार ने सोमवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बोडिया कमालपुर में सक्षम हरियाणा योजना के तहत कक्षा तीसरी, पांचवीं व सातवीं के बच्चों का शिक्षा के स्तर का मूल्यांकन जांचा। साथ ही बच्चों को किस तरह तैयारी करनी चाहिए, उसके गुर भी बताए। एसडीएम एक दिन के लिए बोडिया कमालपुर के स्कूल में शिक्षक भी बने।

उन्होंने विद्यार्थियों से गणित व हिंदी के प्रश्न पूछकर विद्यार्थियों के स्तर को जांचते हुए कहा कि अध्यापकों द्वारा विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम अनुसार सही शिक्षा दी जाएं। उन्होंने कहा कि इस स्कूल के विद्यार्थियों का बौद्धिक ज्ञान यह दर्शाता है कि विद्यार्थी रुचि के साथ शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा के मूल्यांकन के अनुसार बच्चों ने 80 प्रतिशत का स्तर हासिल किया हुआ है।

एसडीएम ने जो बच्चे किसी विषय में कमजोर है उन विषयों के बारे में स्कूल के मुखिया व शिक्षकों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए हैं, ताकि कमजोर विद्यार्थियों का स्तर सुधारा जा सके।

गणित व हिंदी के पूछे वस्तुनिष्ठ प्रश्न

बता दें कि बच्चों के शैक्षणिक स्तर को बढ़ाने के लिए जिला के खोल, बावल रेवाड़ी व नाहड़ खंड को शैक्षणिक स्तर पर सक्षम बनाने के लिए जिला के अधिकारी स्कूलों की कक्षाओं में जाकर शिक्षा के स्तर में सुधार लाने का कार्य कर रहे हैं। इसी उद्देश्य से एसडीएम रेवाड़ी ने बोडिया कमालपुर स्कूल में पहुंचकर अपने अनुभव बच्चों से साझा किए व शिक्षा के लिए बच्चों व शिक्षकों को प्रोत्साहित किया। उन्होंने लर्निंग लेवल टेस्ट में गणित व हिन्दी के वस्तुनिष्ठ सवाल भी बच्चों से पूछे। इसके तहत बच्चों को 80 प्रतिशत ग्रेड स्तर की क्षमता हासिल करना है। एसडीएम ने स्कूल में स्थापित प्रयोगशाला का निरीक्षण भी किया तथा यहां पर उपलब्ध रसायनों की जानकारी भी जुटाई। इस दौरान एसडीएम जितेन्द्र कुमार ने पौधरोपण भी किया तथा बच्चों को अधिक से अधिक पौधरोपण करने के लिए भी प्रेरित किया। इस दौरान खंड शिक्षा अधिकारी मुकेश कुमार भी मौजूद रहे।