• Home
  • Haryana News
  • Beri
  • सरपंचों ने ई-पंचायत के विरोध में मुंडन करा पुतला फूंका
--Advertisement--

सरपंचों ने ई-पंचायत के विरोध में मुंडन करा पुतला फूंका

ई-पंचायत प्रणाली और अन्य मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले सरपंच और ग्राम सचिवों काे अपने...

Danik Bhaskar | Apr 05, 2018, 02:10 AM IST
ई-पंचायत प्रणाली और अन्य मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले सरपंच और ग्राम सचिवों काे अपने विरोध-प्रदर्शन में ग्रामीणों का भी समर्थन मिल रहा हे। बुधवार को सभी ने गांव मातनहेल के बीडीओ ऑफिस के बाहर मुख्यमंत्री मनोहरलाल और कृषि एवं पंचायत मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ का पूतला फूंका। इससे पूर्व सरपंचों व ग्राम सचिवों ने बीडीपीओ कार्यालय में धरना दिया और सरपंचों ने अपना मुंडन कराया।

धरने में मातनहेल ब्लॉक के सभी सरपंचों और सभी ग्राम सचिव शामिल रहे। हर पंचायत से कुछ मौजूद व्यक्ति व विपक्ष से पूर्व शिक्षा मंत्री गीता भुक्कल, इनेलो के नेता राकेश जाखड़, बेरी ब्लॉक से उपेन्द्र कादयान आदि पहुंचे व समर्थन दिया। धरने में महिला सरपंच भी पहुंची। काफी तादाद में महिला सरपंच व पंच मौजूद रही। अध्यक्षता मातनहेल के सरपंच सतेंद्र उर्फ भुरू ने की। सरपंच एसोसिएशन के अध्यक्ष सतेंद्र उर्फ भुरू ने कहा कि वे ई-पंचायत प्रणाली का विरोध नहीं कर रहे बल्कि हम उस नीति का विरोध कर रहे हैं जिसके तहत यह सिस्टम लागू किया जा रहा है। सभी सरपंचों और सचिवों ने मांग की है कि सस्पेंड किए गए 9 ग्राम सचिवों को तुरंत बहाल करें। इस अवसर पर सभी सरपंच व ग्राम सचिव व आसपास के गणमान्य व्यक्ति आदि मौजूद थे। सभी ने सरकार पर आरोप लगाया कि मातनहेल में मुख्यमंत्री जो घोषणा की वह अब तक पूरी भी नहीं हुई हैं। मातनहेल खंड के सरपंचों व ग्राम सचिवों में सरकार के प्रति रोष है ।

साल्हावास. ई-पंचायत के िवरोध में सरपंचों ने कराया मुंडन।