Hindi News »Haryana »Beri» बेरी महिला काॅलेज के निर्माण पर सीएम से नहीं मिली राहत

बेरी महिला काॅलेज के निर्माण पर सीएम से नहीं मिली राहत

बेरी. सीएम से मुलाकात के बाद बेरी के लोग अपनी बात रखते हुए। भास्कर न्यूज | बेरी प्रदेश के मुख्यमंत्री की घोषणा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 10, 2018, 02:00 AM IST

बेरी. सीएम से मुलाकात के बाद बेरी के लोग अपनी बात रखते हुए।

भास्कर न्यूज | बेरी

प्रदेश के मुख्यमंत्री की घोषणा अनुसार बेरी में खेल स्टेडियम के पीछे वाली 67 कैनाल भूमि पर महिला कॉलेज का निर्माण करवाने के लिए बेरी की पंचायत रविवार को रोहतक में सीएम मनोहर लाल से मिली, लेकिन सूबे के मुखिया ने बेरी में महिला कालेज बनवाने के लिए साफ मना कर दिया। इसे लेकर लाेगाें में राेष है। उन्होंने कहा कि महिला कॉलेज बनवाने के लिए अब बड़ा आंदोलन किया जाएगा। जरूरत पड़ी तो भूख हड़ताल भी की जाएगी।

सोमवार को पुरानी गऊशाला में राजकीय महिला महाविद्यालय निर्माण समिति के सदस्यों और गणमान्य लोगों ने प्रेस कांफ्रेंस कर आंदोलन की रणनीति बनाने की बात कही है। सूबेदार धीर सिंह, डाॅ. जगदीश कादयान, प्रधान भूप सिंह, उमराव सिंह, राजपाल सुहाग ने बताया कि रोहतक केनाल रेस्ट हाउस में महाविद्यालय निर्माण के लिए मुख्यमंत्री से मुलाकात की। इस दौरान उन्हें सभी संबंधित कार्यालयों के सकारात्मक पत्राचार से भी अवगत करवाया, लेेकिन मुख्यमंत्री ने बेरी में महिला काॅलेज बनवाने के लिए मना कर दिया, जबकि सीएम मनोहर लाल 20 नवंबर 2016 को बेरी दौरे पर घोषणा करके गए थे। उस दिन केंद्रीय मंत्री बीरेन्द्र सिंह ने भी काॅलेज बनवाने का आश्वासन दिया था, लेकिन राजनीतिक खींचतान के कारण बेरी में महिला काॅलेज का मामला खटाई में डाला जा रहा है। इस कारण बेरी के लोगों में रोष है। राजकीय महिला महाविद्यालय निर्माण समिति के पदाधिकारियों का कहना है कि अगर सरकार ने महिला काॅलेज निर्माण पर जल्द फैसला नहीं लिया तो कस्बे में बड़ा आंदोलन किया जाएगा। भूख हड़ताल भी की जाएगी। आंदोलन के लिए रणनीति बनाई जा रही है। बेरी की गोशाला में 10 दिन में महिला कॉलेज बनवाने के लिए तीसरी बार पंचायत बुलाई गई। ऐसे में बेरी के लोगों ने बेटियों के लिए कॉलेज बनवाने के लिए आंदोलन का निर्णय लिया है। इस मामले में बेरी के लोगों ने 26 मार्च को पंचायत बुलाई थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×