Hindi News »Haryana »Beri» 15 हजार की आबादी वाले बेरी में 2 जलघर, नहीं मिल रहा पूरा पानी

15 हजार की आबादी वाले बेरी में 2 जलघर, नहीं मिल रहा पूरा पानी

करीब 15 हजार की आबादी वाले बेरी कस्बे के लोगों को पर्याप्त पानी उपलब्ध कराने के लिए दो जलघरों का निर्माण कराया गया...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 02:00 AM IST

15 हजार की आबादी वाले बेरी में 2 जलघर, नहीं मिल रहा पूरा पानी
करीब 15 हजार की आबादी वाले बेरी कस्बे के लोगों को पर्याप्त पानी उपलब्ध कराने के लिए दो जलघरों का निर्माण कराया गया था। इसके बाद भी लोगों को पीने का स्वच्छ पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है। जन स्वास्थ्य विभाग अपनी मनमानी से रोजाना समय बदलकर पानी की सप्लाई दे रहा है। इस कारण लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। महिलाओं का कहना है कि सुबह का समय पानी के इंतजार में निकल जाता है। जन स्वास्थ्य विभाग एक दिन सुबह सवा 4 बजे पानी की सप्लाई देता, जबकि दूसरे ही दिन सवा 5 कर देता है।

सीएम विंडो पर जन स्वास्थ्य विभाग की करेंगे शिकायत

साेमवार काे स्वराजगंज में सुबह सवा 4 से सुबह 5 बजे तक पानी चलाने का समय था, लेकिन 4 बजकर 40 मिनट तक पानी आया तो गली के लोगों ने फोन करके जानना चाहा कि पानी की सप्लाई कब तक छोड़ी जाएगी, लेकिन विभागीय कर्मचारियों से संपर्क नहीं हो सका। इसके बाद माेहल्ले के लोगों ने जलघर में भी संपर्क किया, लेकिन कर्मचारियों का कहना था कि तुम्हारी पानी की सप्लाई छोड़ चुके हैं। यह सुनकर मोहल्ले के लोगों को बिना पानी के ही काम चलाना पड़ा। कस्बे के लोगों ने जन स्वास्थ्य विभाग की मनमानी की शिकायत सीएम विंडो पर करने की बात कही है। उनका कहना है कि जलघर का फिल्टर प्लांट गंदगी से अटा है। ऐसे में विभाग कि लापरवाही का अंदाजा लगाया जा सकता है। कस्बे के लोग बूंद-बूंद को तरस गए हैं। पिछले कई दिन से उन्हें पानी समय पर नहीं मिल रहा है।



रोजाना एक समय पर ही

पानी की सप्लाई दी जाएगी

पानी सप्लाई की टेक्निकल प्राब्लम बनी थी। इसलिए रोजाना समय बदलकर पानी की सप्लाई दी। अब सब ठीक हैै। रोजाना एक समय पर ही पानी की सप्लाई दी जाएगी। किसी भी उपभोक्ता को परेशान नहीं होने दिया जाएगा। उनकी शिकायत को प्राथमिकता दी जाएगी। - सुमित कुमार, जेई

फोन करने पर व्यवहार

ठीक नहीं करते कर्मचारी

अमित वर्मा, सुरेंद्र, पवन कुमार, संजय ने बताया कि कस्बे में पानी की सप्लाई ठीक नहीं करी जा रही है। जन स्वास्थ्य विभाग पानी की सप्लाई का समय रोजाना बदल देता है। इस कारण लोगों को मालूम नहीं पड़ता कि पानी की सप्लाई कब आएगी। अगर जन स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों से फोन पर पानी की सप्लाई का समय जानना चाहते हैं तो दूसरे की ड्यूटी का हवाला फोन काट देते हैं। दोबारा फोन मिलाने पर कर्मचारी व्यवहार ठीक नहीं करते हैं।

बस स्टैंड झाड़ली पर 1 महीने से पीने के पानी का संकट

साल्हावास |जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती जा रही है वैसे-वैसे क्षेत्र में पानी की समस्या बढ़ती जा रही है। यह समस्या बस स्टैंड झाड़ली पर आ रही है। इस कारण यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उनका कहना है कि यह सब जानते हुए भी रोडवेज प्रशासन इस तरफ ध्यान नहीं दे रहा है। महाबीर,नरेश कुमार, सतबीर, नवनीत ने बताया कि पीने के पानी की समस्या एक महीने से है। गर्मी के मौसम में पानी की खपत भी ज्यादा होती है। यात्रियों को पानी अपने आप ही लाना पड़ रहा है। ग्रामीणाें ने कहा कि टंकी में लीकेज के कारण पानी की कमी है। बहुझोलरी से मातनहेल, भिवानी, दादरी, कोसली, रेवाड़ी आने-जाने वाले यात्रियों के लिए गर्मी में पीने के पानी की सुविधा मिल रही थी। 400 लोग लाभ उठा रहे थे। झाड़ली में दो टंकी लगी है, लेकिन बस स्टैंड पर एक ही टंकी है। एनटीपीसी के मैन गेट पर टंकी रखी है। इनमें एक टंकी भी ठीक नहीं है। यात्रियों ने एनटीपीसी के अधिकारियों से टंकी ठीक कराने की मांग की है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×