बेरी

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Beri
  • ओलावृष्टि से बर्बाद फसल लेकर 8 गांवों के किसान डीसी से मिले, मांगा Rs.40 हजार मुआवजा
--Advertisement--

ओलावृष्टि से बर्बाद फसल लेकर 8 गांवों के किसान डीसी से मिले, मांगा Rs.40 हजार मुआवजा

क्षेत्र में हुए ओलावृष्टि के कारण फसलों के नुकसान पर पीड़ित किसान मुआवजे के लिए डीसी के दरबार में पहुंचे। मुआवजे...

Dainik Bhaskar

Apr 11, 2018, 02:00 AM IST
क्षेत्र में हुए ओलावृष्टि के कारण फसलों के नुकसान पर पीड़ित किसान मुआवजे के लिए डीसी के दरबार में पहुंचे। मुआवजे की मांग लेकर पहुंचे दूबलधन, चिमनी, सिवाना, मांगावास सहित इन आठ गांवों के पीड़ितों का नेतृत्व स्थानीय विधायक व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डाक्टर रघुवीर सिंह कादियान ने किया।

इस मौके पर राज्यपाल व मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन भी डीसी को सौंपा गया जिसमें फसलों के हुए नुकसान की गिरदावरी करवाकर किसानों को 40 हजार रुपए प्रति एकड़ मुआवजा देने की मांग की गई है। डाॅक्टर कादियान ने पीड़ित किसानों की पैरवी करते हुए डीसी सोनल गोयल को बताया कि सोमवार को बेरी सब डिवीजन के आठ गांव में जमकर हुई ओलावृष्टि से गेहूं व सरसों की फसल बड़ी मात्रा में नष्ट हुई है। उन्होंने बताया कि कटाई के समय के कारण अधिकांश किसानों की फसलें उनके खेतों में ही पड़ी है जिस पर ओलावृष्टि की बड़ी मार हुई है। डीसी सोनल गोयल ने मौके पर उपस्थित डीआरओ मनप्रीत गोदारा को पीड़ित क्षेत्र का निरीक्षण कर रिपोर्ट देने को कहा है ताकि समयानुसार किसानों को राहत मिल सके। इस अवसर पर कैप्टन राज सिंह, ईश्वर डीपीई, रवि कादयान, बबलू माजरा, ढीलू माजरा, पूर्व सरपंच तारीफ सिंह, पूर्व सरपंच नरेन्द्र सिंह, बबलू माजरा उपस्थित रहे।

ओलावृष्टि से प्रभावित हुई फसलों

का लिया जायजा

ओलावृष्टि से प्रभावित हुई फसलों

का लिया जायजा

बेरी | मंगलवार को हरियाणा प्रदेश कांग्रेस के महासचिव कुलताज सिंह ने माजरा दूबलधन, दूबलधन किरमान, दूबलधन घिक्यान समेत पलड़ा गांव में ओलावृष्टि से प्रभावित हुई फसलों का जायजा लिया और पीड़ित किसानों से मुलाकात की। इनके साथ कांग्रेस नेता रमेश वाल्मीकि इसके बाद कुलताज ने माजरा मंडी का दौरा किया वहां की दयनीय स्थिति को देखते हुए बताया कि 31 वर्ष पहले चौधरी बंसीलाल के पुत्र सुरेंद्र सिंह ने इस मंडी का उद्घाटन किया था। इतने साल बीतने के बाद भी मंडी में न तो किसानों को धूप और बारिश से बचने की कोई व्यवस्था नहीं है और किसान अनाज को मिट्टी में ही डालने की डालने को मजबूर हैं और पीने के पानी की व्यवस्था तक नहीं है। इस अवसर पर रमेश वाल्मीकि, एसडीओ नसीब सिंह, सुखबीर, महावीर व रमेश मौजूद थे। - संबंधित समाचार पेज 4 पर

बेरी | मंगलवार को हरियाणा प्रदेश कांग्रेस के महासचिव कुलताज सिंह ने माजरा दूबलधन, दूबलधन किरमान, दूबलधन घिक्यान समेत पलड़ा गांव में ओलावृष्टि से प्रभावित हुई फसलों का जायजा लिया और पीड़ित किसानों से मुलाकात की। इनके साथ कांग्रेस नेता रमेश वाल्मीकि इसके बाद कुलताज ने माजरा मंडी का दौरा किया वहां की दयनीय स्थिति को देखते हुए बताया कि 31 वर्ष पहले चौधरी बंसीलाल के पुत्र सुरेंद्र सिंह ने इस मंडी का उद्घाटन किया था। इतने साल बीतने के बाद भी मंडी में न तो किसानों को धूप और बारिश से बचने की कोई व्यवस्था नहीं है और किसान अनाज को मिट्टी में ही डालने की डालने को मजबूर हैं और पीने के पानी की व्यवस्था तक नहीं है। इस अवसर पर रमेश वाल्मीकि, एसडीओ नसीब सिंह, सुखबीर, महावीर व रमेश मौजूद थे। - संबंधित समाचार पेज 4 पर

X
Click to listen..