Hindi News »Haryana »Beri» बैठान पाना में नालों के निर्माण के बाद भी निकासी नहीं

बैठान पाना में नालों के निर्माण के बाद भी निकासी नहीं

दो वर्ष पहले सरकार ने बरसाती पानी के लिए करोड़ों से बूस्टर बनाए थे, लेकिन बजट के अभाव में नगर पालिका ने नाले नहीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 21, 2018, 02:05 AM IST

दो वर्ष पहले सरकार ने बरसाती पानी के लिए करोड़ों से बूस्टर बनाए थे, लेकिन बजट के अभाव में नगर पालिका ने नाले नहीं बना पा रही थी। अब नगर पालिका ने लाखों रुपए से नाले तैयार करा दिए, पर मोटी राशि खर्च करने के बावजूद मोहल्ला बैठान पाना में गंदे पानी की निकासी नहीं हो रही है। इस कारण गली में गंदगी फैली रहती है। इस कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। लोग एसडीएम, पब्लिक हेल्थ और नगर पालिका कार्यालय में शिकायत दे चुके हैं। इसके बावजूद अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे।

नरेश, महेश, संजय,भगत व राजेंद्र का कहना है कि विभाग ने बरसाती पानी की निकासी के लिए जिस बूस्टर में कस्बे के नालों का कनेक्शन करा रखे हैं। 9 अप्रैल की सुबह आई बरसात में दादा कुलदेवता के समीप वाले बूस्टर के अंदर कई फीट पानी जमा हो गया था। कस्बे की अधिकांश सड़कें पानी से लबा लब भर गई। घरोंं में पानी घुस गया। बेरी के छाजाना और बैठान सहित कई सड़कों पर आने जाने का रास्ता नहीं रहा। काफी देर बाद जन स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने बूस्टर को चालू किया तो पानी की निकासी हुई। लोगों का कहना है कि हल्की बरसात में बूस्टर और गलियों में फिर पानी भर गया तो पानी निकासी संभव नहीं है। नरेश कादयान का कहना है। कि प्रशासन ने रोहतक रोड तक नाले बनाकर छोड़ दिए आगे पानी निकासी का प्रबंध नहीं किया। कई साल से प्रशासन की ओर से कस्बे का गंदा पानी किसानों के खेतों में छोड़ा जा रहा था। इस कारण किसानों की कई एकड़ जमीन खराब हो रही थी। काफी साल बीतने के बाद भी प्रशासन ने गंदे पानी की निकासी इंतजाम नहीं कराया तो अब किसानों ने अपने खेतों में गंदे पानी के घुसने पर रोक लगा दी। कस्बे के लोगों ने 18 अप्रैल को डीसी के दरबार में गंदे पानी की निकासी की समस्या रखी थी।

पब्लिक हेल्थ और नपा कार्यालय में शिकायत देने के बाद अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान

समय पर बूस्टर चलाने पर होगी निकासी

नालें का कनेक्शन बूस्टर में एसडीएम ने जुड़वाया था। सभी नालों का कनेक्शन बूस्टर में जोड़ रखा है। अगर समय पर बूस्टर चलाए जाए तो समय पर पानी की निकासी हो सकती है। - मनदीप धनखड़, एमई नगर पालिका

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×