Hindi News »Haryana »Beri» गनमैन ने रात को मजदूर संग शराब पी, सुबह कर दी हत्या

गनमैन ने रात को मजदूर संग शराब पी, सुबह कर दी हत्या

छुछकवास गांव में हरियाणा पुलिस के हवलदार ने प्रवासी मजदूर के माथे में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। इससे पहले...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 06, 2018, 02:10 AM IST

गनमैन ने रात को मजदूर संग शराब पी, सुबह कर दी हत्या
छुछकवास गांव में हरियाणा पुलिस के हवलदार ने प्रवासी मजदूर के माथे में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। इससे पहले हवलदार ने रातभर मजदूर के साथ शराब पी। शनिवार अलसुबह मजदूर के माथे पर मजाक-मजाक में रिवॉल्वर रख गोली चला दी, जिसमें उसकी मौत हो गई। घटना को अंजाम देकर हवलदार रिवॉल्वर लेकर फरार हो गया। हवलदार ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से गोली मारी या अन्य हथियार से इसकी जानकारी नहीं मिल सकी, लेकिन पुलिस इसकी जांच कर रही है। घटना को अंजाम देने वाले हवलदार की पहचान कृष्ण कालूूवास गांव निवासी चरखी दादरी के रूप में हुई है। हवलदार झज्जर अदालत में मजिस्ट्रेट का सुरक्षा कर्मी है।

पुलिस के अनुसार हत्या की कोई खास वजह पता नहीं चली है। मजदूर के साथियों और परिजनों ने किसी से भी रंजिश नहीं होने की बात कही है। क्योंकि हवलदार अक्सर बुद्ध सैन के साथ शराब पिया करता था। यह भी हो सकता है कि बुद्ध सैन ने कृष्ण के ढाबे पर काम करना बंद कर दिया हो, लिहाजा उसकी टीस कृष्ण के मन में हो और शराब के नशे में इस बात पर विवाद होने पर कृष्ण ने गोली मार दी हो। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में मृतक मजदूर बुद्ध सैन के चाचा के शिकायत पर आरोपी हवलदार के खिलाफ हत्या का मामला कर लिया है। बताया गया कि हवलदार कृष्ण ने कुछ दिन पूर्व झज्जर में एक ढाबा खोला था। ढाबे पर काम करने के लिए बुद्ध सैन पुत्र सुखलाल निवासी जिला पीलीभीत यूपी और उसके अन्य साथियों को रखा था।

बेरी . हवलदार के द्वारा गोली लगने पर अचेत पड़ा अप्रवासी बुद्ध सैन।

हवलदार ने साथियों संग पी थी शराब

कृष्ण शुक्रवार रात बुद्ध सैन के पास आया था। यहां सभी ने शराब पी और सो गए। कृष्ण बाहर सो गया शनिवार अलसुबह हवलदार कृष्ण ने फिर शराब पी। जैसे ही कृष्ण को नशा चढ़ा तो उसने कुर्सी पर बैठे बुद्ध सैन के माथे पर रिवॉल्वर रख दी। कृष्ण के साथी मजदूरों की माने तो कृष्ण की ओर से चलाई गई एक गोली खाली चली गई, लेकिन दूसरी बार कृष्ण ने गोली चलाई तो सीधी बुद्ध सैन के माथे में जा लगी। घटना के बाद हवलदार मौके से फरार हो गया। इसके बाद साथी मजदूर प्रदीप, परसराम, लालजीत और प्रेम शंकर बुद्ध सैन को गंभीर घायलावस्था में झज्जर के सामान्य अस्पताल लेकर आए। यहां से उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया। जहां पहुंचते ही बुद्ध सैन की मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर छुछकवास चौकी इंचार्ज शेषराज, थाना प्रभारी तेलूराम पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। मौके पर एफएसएल की टीम को भी बुलाया गया। इस मामले में पुलिस ने मृतक के चाचा प्रदीप की शिकायत पर हवलदार के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। थाना प्रभारी तेलूराम ने बताया कि हवलदार की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित की गई है। जल्द ही वह सलाखों के पीछे होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×