• Hindi News
  • Haryana
  • Bhiwani
  • शहर में चल रहे 3 हजार ऑटो, आईडी कार्ड देकर चालकों का रिकॉर्ड रखेगी पुलिस
--Advertisement--

शहर में चल रहे 3 हजार ऑटो, आईडी कार्ड देकर चालकों का रिकॉर्ड रखेगी पुलिस

Bhiwani News - अब शहर में कोई भी ऑटो पुलिस की अनुमति के बगैर सड़कों पर नहीं दौड़ पाएंगे। इसके लिए पुलिस विभाग ऑटो रिक्शा चालकों को आई...

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 02:05 AM IST
शहर में चल रहे 3 हजार ऑटो, आईडी कार्ड देकर चालकों का रिकॉर्ड रखेगी पुलिस
अब शहर में कोई भी ऑटो पुलिस की अनुमति के बगैर सड़कों पर नहीं दौड़ पाएंगे। इसके लिए पुलिस विभाग ऑटो रिक्शा चालकों को आई कार्ड जारी करेगा। पुलिस विभाग ने यह निर्णय शहर में आपराधिक घटनाओं को रोकने की दृष्टि से लिया गया है तथा यह योजना 15 फरवरी से लागू कर दी जाएगी।

शहर की सड़कों पर लगभग तीन हजार ऑटो रिक्शा दौड़ रहे हैं। यातायात नियमों की पालना न करने से जहां यातायात व्यवस्था बिगड़ती है वहीं कई आपराधिक घटनाओं में ऑटो रिक्शा चालक शामिल पाए गए हैं। गत छह माह में लगभग आधा दर्जन ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जिनमें आरोपी अॉटो रिक्शा चालक थे। इसी के मध्य नजर पुलिस ने अब सभी ऑटो चालकों को परिचय पत्र जारी करने की प्लान बनाई है। 15 फरवरी से ऑटो चालकों को आई कार्ड जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

3 महीनों में ये हैं ऑटों में होने वाली 4 बड़ी घटनाएं

1. 30 जनवरी को हांसी गेट पर ऑटो रिक्शा में सवार होकर आए चार युवक सड़क के साथ खड़ी झोझूकलां के पूर्व फॉरेस्ट गार्ड बलबीर सिंह की बाइक की डिग्गी से एक लाख चार हजार रुपये की नकदी निकाल कर ले गए थे। चोरी की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई थी।

2. 20 दिन पहले रोहतक गेट से बवानीखेड़ा जाने के लिए एक ऑटो रिक्शा में बैठी सवारियों से ऑटो चालक व उसके साथी ने रास्ते में मारपीट की और लगभग पांच हजार रुपये की नकदी छीनकर फरार हो गए थे।

शहर में दौड़ते ऑटो रिक्शा, पुलिस द्वारा ऑटो रिक्शा चालकों को ऑटो चलाने के लिए आईकार्ड जारी किए जाएंगे।

3. नवंबर माह में रोहतक गेट पर खड़े एक व्यक्ति के हाथ से ऑटो में सवार दो युवक बैग छीनकर ले गए थे।

4. नवंबर माह में ही कृष्णा कॉलोनी चौक से ऑटो में सवार दो महिलाएं एक महिला को चकमा देकर आभूषण व नकदी चोरी कर ले गई थी।

शिकायत मिलने पर होगी सख्य कार्रवाई

पुलिस द्वारा ऑटो रिक्शा चालकों को पहचान पत्र जारी करने की वजह आपराधिक घटनाओं को रोकने के साथ साथ ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारना भी है। चालक कहीं भी ऑटो खड़े कर सवारी बैठाते व उतारते हैं। इसकी वजह से सड़क पर जाम की स्थिति बन जाती है। इस संबंध में अगर कोई व्यक्ति पुलिस को ऑटो का नंबर बताएगा तो पुलिस उस ऑटो के चालक को थाना में बुलाकर सख्त हिदायत देगी। बार बार शिकायत आने पर पुलिस उसका आई कार्ड भी वापस ले लेगी तथा उसे ऑटो चलाने की अनुमति नहीं होगी।


X
शहर में चल रहे 3 हजार ऑटो, आईडी कार्ड देकर चालकों का रिकॉर्ड रखेगी पुलिस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..