• Hindi News
  • Haryana
  • Bhiwani
  • संस्कृत को अन्य भाषाओं से पीछे नहीं रहने दिया जाएगा:सोमेश्वर
--Advertisement--

संस्कृत को अन्य भाषाओं से पीछे नहीं रहने दिया जाएगा:सोमेश्वर

Bhiwani News - प्रदेश सरकार को संस्कृत को आगे बढ़ाने का भरसक प्रयास कर रही है। संस्कृत को अन्य किसी भी भाषा से पीछे नहीं रहने दिया...

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2018, 02:05 AM IST
संस्कृत को अन्य भाषाओं से पीछे नहीं रहने दिया जाएगा:सोमेश्वर
प्रदेश सरकार को संस्कृत को आगे बढ़ाने का भरसक प्रयास कर रही है। संस्कृत को अन्य किसी भी भाषा से पीछे नहीं रहने दिया जाएगा। यह बात हरियाणा संस्कृत अकादमी पंचकुला के निदेशक सोमेश्वर दत्त शर्मा ने श्री सनातन धर्म संस्कृत महाविद्यालय में छात्रों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने बताया कि भिवानी छोटी काशी के नाम से जानी जाती है।

यहां पर संस्कृत का सबसे अधिक प्रचार प्रसार होता है। हरियाणा में श्रीसनातन धर्म संस्कृत महाविद्यालय में शास्त्री में प्रदेश में सबसे अधिक छात्र शिक्षा ग्रहण करते हैं। उन्होंने बताया कि इस समय वार्षिक परीक्षाएं आरंभ होने वाली हैं। छात्रों को परीक्षा का अधिक दबाव न मानते हुए एक निश्चित समय पर सभी पाठयक्रम याद करने चाहिए। सरकार शिक्षा के स्तर को बढ़ाने का प्रयास कर रही हैं। पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ के डाॅ. वेदप्रकाश उपाध्याय ने बताया कि संस्कृत एक ऐसी प्राकृतिक भाषा हैं जिसमें सूत्र के रूप में कंप्यूटर के जरिए कोई भी संदेश कम से कम शब्दों में भेजा जा सकता हैं। संस्था के संचालक आचार्य रमेश मिश्र ने सभी अतिथियों को हिन्दी के प्रथम मौलिक कहानीकार पंडित माधव प्रसाद मिश्र की जीवनी भेंट की। इस अवसर पर नंद किशोर अग्रवाल, प्राचार्य विनय मिश्र, मुरलीधर शास्त्री, रामकुमार ठाकरान, श्रुति सौपर्णा, रजनी, मुनुश, सुशील शास्त्री आदि उपस्थित थे।

संस्कृति विद्वानों को सम्मानित करते रमेश मिश्र व विनय मिश्रा।

X
संस्कृत को अन्य भाषाओं से पीछे नहीं रहने दिया जाएगा:सोमेश्वर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..