कोलकाता में मूर्ति तोड़ने के विराेध में एसयूसीआई ने किया प्रदर्शन

Bhiwani News - कोलकाता में महान समाज सुधारक और भारतीय नवजागरण के शिल्पी ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़े जाने की एसयूसीआई...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:31 AM IST
Bhiwani News - haryana news in kolkata the suci has performed a demonstration for breaking the statue
कोलकाता में महान समाज सुधारक और भारतीय नवजागरण के शिल्पी ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़े जाने की एसयूसीआई की भिवानी जिला कमेटी की ओर से निन्दा की गई। इसके विरोध में 17 मई को नेहरू पार्क के पास धरना-प्रदर्शन किया गया। सभा को एसयूसीआई के जिला कमेटी के सदस्यों और छात्र-युवा, महिला व किसान-मजदूर फ्रंटल संगठनों के नेताओं ने संबोधित किया। वक्ताओं ने देश के एक महान समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़े वालों की आलोचना करते हुए कहा कि ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को ऐसे समय में ध्वस्त किया गया है जब पूरा देश उनकी 200वीं जयंती मनाने की तैयारी कर रहा है। भारतीय पुनर्जागरण से लेकर स्वतंत्रता आंदोलन तक, वह भारत की उन महान हस्तियों में से एक थे, जो भारत में धर्मनिरपेक्ष मानवतावादी सोच के लिए अडिग खड़े रहे। उन्होंने बताया कि रवींद्रनाथ टैगोर, स्वामी विवेकानंद, देशबंधु सीआर दास, शरतचंद्र से लेकर सुभाषचंद्र बोस, बाल गंगाधर तिलक, लाला लाजपत राय आदि ने ईश्वरचंद्र विद्यासागर से प्रेरणा ली। लेकिन दुख की बात है कि विद्यासागर की मूर्ति को उग्र हिंदुत्व वादी ताकतों और अज्ञानी लोगों की भीड़ द्वारा तोड़ा गया है। वक्ताओं ने कहा कि विद्यासागर की प्रतिमा के विध्वंस को सिर्फ चुनावी हिंसा का ही हिस्सा मानने की भूल नहीं करनी चाहिए, बल्कि यह धर्मनिरपेक्ष और वैज्ञानिक सोच को खत्म करने की एक सोची-समझी साजिश है। यह उनकी मूर्ति पर ही नहीं बल्कि उनके प्रगतिशील, धर्मनिरपेक्ष व वैज्ञानिक विचारों पर हमला है। उन्होंने कहा कि बीजेपी-आरएसएस नेताओं द्वारा लगातार जिस तरह के विज्ञान-विरोधी दावे किए जा रहे हैं और आरएसएस-भाजपा के ही उपद्रवियों द्वारा पिछले साल त्रिपुरा में लेनिन की मूर्ति को गिराने की करतूत की गई यह कुकृत्य भी उसी साजिश का हिस्सा है। वक्ताओं ने संघ परिवार की फांसीवादी ताकतों के खिलाफ आगे आने, ऐसे एक घृणित कुकृत्य के खिलाफ प्रतिरोध की आवाज बुलंद करने और धर्मनिरपेक्ष और लोकतांत्रिक आंदोलन को मजबूत करने का सभी प्रगतिशील लोगों, छात्र-नौजवानों और महिलाओं से आह्वान किया। इस अवसर पर जिले सिंह, रोहताश सिंह, राजकुमार बासिया, धर्मबीर सिंह, सुखबीर सिंह, संदीप मेहरा, मनीराम, राजकुमार दिनोद, वजीर, संतरा व बिमला आदि मौजूद थे।

भिवानी। कोलकाता में ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़े जाने के विराेध में शहर में एसयूसीआई की ओर से किए गए प्रदर्शन में भाग लेते लोग।

X
Bhiwani News - haryana news in kolkata the suci has performed a demonstration for breaking the statue
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना