बिलासपुर

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Bilaspur
  • सिख दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर को संगत कभी नहीं करेगी माफ : लोगोंवाल
--Advertisement--

सिख दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर को संगत कभी नहीं करेगी माफ : लोगोंवाल

सिख दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर को सरकार कड़ी सजा दे। अब तो उनके अत्याचार की सच्चाई सबक सामने हैं। एसजीपीसी मांग...

Dainik Bhaskar

Feb 08, 2018, 02:05 AM IST
सिख दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर को संगत कभी नहीं करेगी माफ : लोगोंवाल
सिख दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर को सरकार कड़ी सजा दे। अब तो उनके अत्याचार की सच्चाई सबक सामने हैं। एसजीपीसी मांग करती है कि दंगों के सभी आरोपियों को सलाखों के पीछे भेजा जाए। उक्त विचार एसजीपीसी के प्रधान गोबिंद सिंह लोगोंवाल ने कपालमोचन स्थित पहली एवं दसवीं पातशाही गुरुद्वारा में सिख संगत की एक बैठक के दौरान व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि सिख इतिहास में 1984 दंगे काले पन्ने की तरह हैं। जगदीश टाइटलर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। अब सरकार को सजा सुनाने में देरी नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सिख योद्धा बाबा बंदा सिंह बहादुर की राजधानी को विकसित करने में एसजीपीसी कोई कसर नहीं छोड़ेगी। बाबा बंदा सिंह बहादुर की कुर्बानी को यादगार बनाया जाएगा। एसजीपीसी प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थानों में आधुनिक शिक्षा देने की दिशा में कार्यरत है। शीघ्र ही लोहगढ़ में नेशनल सिख कॉन्फ्रेंस व धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शाहबाद स्थित मीरी पीरी मेडिकल कालेज का दौरा संस्थान के अधिकारियों से बैठक कर कमियों को दूर किया जाएगा। अधर में रुके कार्य को पूरा किया जाएगा।

एसजीपीसी सदस्य बलदेव सिंह की मांग पर उन्होंने कपालमोचन में दीवानघर बनाने व अन्य सुविधाओं को स्वीकृति प्रदान की। एसजीपीसी के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष मीत प्रधान बलदेव सिंह व बीबी मनजीत कौर गधौला ने उन्हें सिरोपा व कृपाण भेंट कर सम्मानित किया। मौके पर जसविंद्र सिंह, जसपाल सिंह, जसवंत सिंह, रणसिंह, नरेंद्र सिंह, रविन्द्र सिंह, प्रविंद्र सिंह, सुरेन्द्र सिंह, लाजवंत सिंह, रमन जोत सिंह, जसपाल भट्टी, तेजा सिंह, करनैल सिंह, जसवंत सिंह, अमरीक सिंह, परमिंद्र सिंह समेत सिख समाज के अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

बिलासपुर: जानकारी देते एसजीपीसी प्रधान।

X
सिख दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर को संगत कभी नहीं करेगी माफ : लोगोंवाल
Click to listen..