• Home
  • Haryana News
  • Bilaspur
  • दो घंटे देरी से मिला 7वीं का प्रश्न पत्र, कई जगह कम आए
--Advertisement--

दो घंटे देरी से मिला 7वीं का प्रश्न पत्र, कई जगह कम आए

भास्कर न्यूज | यमुनानगर/ बिलासपुर सरकारी स्कूलों में सोमवार से प्राथमिक कक्षाओं की परीक्षाएं शुरू हो गई। पहले...

Danik Bhaskar | Mar 20, 2018, 02:10 AM IST
भास्कर न्यूज | यमुनानगर/ बिलासपुर

सरकारी स्कूलों में सोमवार से प्राथमिक कक्षाओं की परीक्षाएं शुरू हो गई। पहले दिन से ही शिक्षक व छात्र बदहाल व्यवस्थाओं से जूझते रहे। कहीं पर पूरे प्रश्न पत्र नहीं पहुंचे, तो कही पर शिक्षकों को फोटो स्टेट कराने में समय अधिक लगा। जिससे परीक्षा देरी से शुरू हुई। बाढ़ीमाजरा में सरकारी स्कूल में कक्षा चार के गणित के 70 प्रश्न पत्र कम आए। जिस कारण स्कूल मुखिया को इन प्रश्नपत्रों की फोटोस्टेट करानी पड़ी। बिलासपुर में मिडिल कक्षा के प्रश्र पत्र सही समय पर न मिलने के कारण सातवीं की परीक्षा देरी से शुरू हुई। पेपर सुबह साढ़े 8 बजे शुरू होना थे। लेकिन अध्यापक साढ़े नौ बजे तक तो खंड कार्यालय में पेपर तलाशते रहे।

सोमवार को छठी का साइंस, सातवीं का पंजाबी व संस्कृत तथा आठवीं का सोशल साइंस का पेपर था। सातवीं का पेपर न मिलने से स्कूल मुखिया को परेशानी का सामना करना पड़ा। जैसे ही शिक्षक बीईओ कार्यालय पहुंचे तो पता चला कि अभी तक कक्षावार प्रश्र पत्र सेट किए जा रहे हैं। टीचर्स अपने अपने स्कूल के प्रश्र पत्र छांटने में लग गए। बीईओ कार्यालय से साढे नौ के बाद निकले अध्यापक अपने स्कूल में दस साढे दस बजे तक ही पहुंचे। चाहड़वाला, काठगढ़, धनौरा, ढलौर, हैबतपुर व आसपास के स्कूलों में साढ़े दस बजे तक ही पेपर पहुंच पाए। ऐसे में उन स्कूलों की परेशानी और बढ़ गई जहां बोर्ड परीक्षाएं चल रही है। नियमानुसार बोर्ड परीक्षा से एक घंटा पहले सेंटर खाली करना होता है।

बिलासपुर | आनन फानन में खंड कार्यालय मे प्रश्न पत्र तलाशते शिक्षक।