• Hindi News
  • Haryana
  • Bilaspur
  • किसानों को जातियों में बांट रहे राजनीतिक दल : मलिक
--Advertisement--

किसानों को जातियों में बांट रहे राजनीतिक दल : मलिक

Dainik Bhaskar

Mar 22, 2018, 02:20 AM IST

Bilaspur News - भास्कर न्यूज | यमुनानगर/रादौर विधायक निवास पर चल रहे किसानों के धरने को समर्थन देने अखिल भारतीय जाट आरक्षण...

किसानों को जातियों में बांट रहे राजनीतिक दल : मलिक
भास्कर न्यूज | यमुनानगर/रादौर

विधायक निवास पर चल रहे किसानों के धरने को समर्थन देने अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक बुधवार को धरनास्थल पहुंचे। उन्होंने किसानों के आंदोलन को समर्थन देने की घोषणा की। इसके बाद वे जिला सचिवालय के बाहर अनाज मंडी गेट पर दादूपुर-नलवी नहर के लिए धरने पर बैठे किसानों से भी मिले। मलिक ने कहा कि शांतिपूर्वक दिल्ली आंदोलन करने जा रहे किसानों को रोककर सरकार व प्रशासन ने निहत्थे किसानों पर लाठीचार्ज करवाकर अपनी किसान विरोधी मंशा जाहिर की है। किसानों पर झूठे 307 के मामले दर्ज करवाकर उन्हें बड़ा अपराधी बनाने की कोशिश की गई है।

मलिक ने कहा कि किसानों की कोई जात नहीं होती। लेकिन भाजपा ने किसानों को जातियों में बांटकर प्रदेश का भाईचारा खराब किया है। जब तक किसान एक रहा तब तक देश में किसानों की मांगों को सरकारों ने कभी नजर अंदाज नहीं किया। लेकिन जब से किसानों को जातियों में बांटा गया है, तब से किसानों की मांगों को सरकारों ने अनदेखा करना शुरू कर दिया है। देश की आजादी में किसानों ने अहम भूमिका निभाई थी। उस समय किसान की कोई जात नहीं होती थी, लेकिन आज राजनीतिक दलों ने देश के कमेरे वर्ग को जातियों में बांटकर दिशाहीन कर दिया है। मलिक ने कहा कि हर सरकार की स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने का किसानों से वादा करती है, लेकिन चुनाव जीतने के बाद किसी ने इस वायदे को पूरा नहीं किया। जिससे किसानों को उनकी फसलों के बाजार भाव नहीं मिल पाए हैं। भाजपा ने भी किसानों से स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने का वायदा किया था। लेकिन चार वर्ष बीत जाने के बावजूद सरकार ने अपना वायदा नहीं पूरा नहीं किया।

मतभेद भुलाकर एक हो जाएं : मलिक ने किसानों से आह्वान किया कि वे आपसी मतभेद भुलाकर एक हो जाएं। जब तक किसान एक नहीं होगा, तब तक उनकी कोई सरकार सुनवाई नहीं करेगी। इस दौरान जिला प्रधान संजू गुंदयाना, सचिव हरपाल सुढल ने कहा कि किसान 22 मार्च को अनाज मंडी रादौर में मामले को लेकर प्रदेश के किसानों की महापंचायत करने जा रहे हैं, जिसमें धरने प्रदर्शन को लेकर आगामी फैसला लिया जाएगा। इस मौके पर प्रदेश प्रभारी अशोक बलहारा, एडवोकेट सुरेशपाल बंचल रादौर, बीएस अहलावत, प्रतापसिंह दहिया, आजादसिंह लठवाल, प्रवीण किझाना, भूपेन्द्र जांगलान जींद, रामकरण दलाल, विजय संधू, रामकुमार मलिक, आशीष फौजदार लाडवा, मिहा सिंह, साहबसिंह, बलदेवसिंह राठी, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष करमसिंह मथाना, जिला प्रधान संजू गुंदयाना, हरपाल सुढल, करनैलसिंह अमलोहा, संदीप टोपरा, सुरेश भागुमाजरा, निर्मल कलेसरा, कर्मबीर मंसुरपुर, धर्मपाल गुंदयाना, जोगिन्द्र गुंदयाना, ईश्वरसिंह बसातिया, कृष्णपाल, मंदीप रोड छप्पर, बीराराम गलौली, कर्ण बुबका, कर्मसिंह मंसुरपुर, ओमप्रकाश गलौली, करनैल सुढैल,धर्मपाल गुंदयाना, जसमेर सिंह, राजकुमार सिपियांवाला, महिंद्र सिंह, रमेशचंद सरावां, मेहरचंद सफीलपुर,रामसिंह जत्थेदार, संजू प्रधान सरावां, गुरमुख सिंह प्रधान छछरौली, सदासिंह शेरपुर, राजपाल गनौला, मोहनलाल शैला, पुष्पेंद्र शैला, ध्यान सिंह सुढैल, हरी सिंह बुबका, बलविंद्र नेहरा, रामरतन नेहरा टोपरा, विक्रम नेहरा, जसपाल नंबरदार व रितेश शर्मा आदि मौजूद रहे।

यमुनानगर | अनाज मंडी गेट पर दादूपुर नलवी नहर डिनोटिफाइड के विरोध में धरना दे रहे किसानों के पास पहुंचे अखिल भारतीय जाट महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मालिक ।

परिवर्तन आसान नहीं, एकजुट होकर लड़ना होगा : मलिक

बिलासपुर | अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने जाट धर्मशाला कपालमोचन में जाट समाज के लोगों की बैठक ली, जिसका आयोजन समिति के जिला प्रधान कांशीराम पीरूवाला ने किया। मलिक ने कहा कि परिवर्तन आसान नहीं है। इसके लिए समाज को एकजुट होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि रोहतक के जसिया में 25 मार्च को जाट समाज के कार्यालय का उदघाटन किया जाएगा। समिति के महासचिव अशोक बलहारा ने कहा कि सरकार जाट और गैर जाट का कार्ड खेलकर जाटों को अलग थलग करने का प्रयास कर रही है। लेकिन इसे कभी सफल नहीं होने दिया जाएगा। मौके पर कैथल जिला प्रधान प्रवीन, कुरुक्षेत्र प्रधान बलदेव राठी, सोनीपत प्रधान आजाद लठवाल, पानीपत प्रधान प्रताप दहिया, जींद प्रधान भूपेंद्र जागलान,अर्जुन सुढैल, मामचंद छौली, जसबीर चौराही, जसबीर पिजोरा, भूपेंद्र तुंबी, सुखबीर पैंसल, जरनैल चनेटा, जगदीश फौजी, जगमाल शेरपुर, चेलाराम, जतनु राम सलेमपुर, चरण सिंह जट्टपुरा, गुरदयाल सिंह मोहड़ी, रामचंद्र, नरेश भूरा, रणधीर भवानीपुर, रामजीलाल जट्टपुरा, ललित चंगनौली, गुलजार मलिक पाबनी, धर्मबीर ताहरपुर, कर्मबीर चबुतरो, महिंद्र आर्य, बरखाराम, संजू व अन्य मौजूद रहे।

सैनी की पार्टी का हाल बिश्नोई व कांडा के दल जैसा होगा : यशपाल

रादौर | उन्होंने कहा कि राजकुमार सैनी द्वारा जाट गैर जाट के नाम पर पार्टी बनाए जाने से प्रदेश में कोई फर्क नहीं पड़ेगा। इससे पहले भी भजनलाल, कुलदीप बिश्नोई, गोपाल कांडा व अन्य नेता एेसे दल बना चुके हैं। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य की बात है कि जनता के चुन हुए प्रतिनिधि ही जनता पर लाठीचार्ज करवाकर उन पर झूठे मुकदमे बनवा रहे हैं। किसानों द्वारा अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करने पर लाठीचार्ज व मुकदमे का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि 25 मार्च को जसिया (रोहतक) में जाट समाज की ओर से बड़ा शिक्षण संस्थान खोला जा रहा है। जिसमें समाज के युवाओं को निशुल्क कोचिंग देकर उनका मार्गदर्शन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जाट आरक्षण के दौरान समाज के लोगों पर बनाए गए मुकदमों को सरकार वापस ले रही है। इस मौके पर बीएस अहलावत, प्रताप सिंह दहिया, आजाद सिंह लठवाल, प्रवीण किझाना, भूपेंद्र जांगलान जींद, रामकरण दलाल, विजय संधू, रामकुमार मलिक, आशीष फौजदार लाडवा, मिहा सिंह, साहब सिंह, बलदेव सिंह राठी, शेरसिंह खुर्दबन, समय सिंह खुर्दबन, संदीप टोपरा आदि उपस्थित रहे।

X
किसानों को जातियों में बांट रहे राजनीतिक दल : मलिक
Astrology

Recommended

Click to listen..