Hindi News »Haryana »Bilaspur» मारवा कलां में एससी चौपाल पर ताला, डीएसपी ले गए थे चाबी, लोग बोले-िसयासी दवाब में कार्रवाई

मारवा कलां में एससी चौपाल पर ताला, डीएसपी ले गए थे चाबी, लोग बोले-िसयासी दवाब में कार्रवाई

मारवा कलां गांव में एससी चौपाल पर ताला लगाने की वजह से दो समुदाय आमने-सामने हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि अगड़े...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 29, 2018, 04:10 AM IST

मारवा कलां गांव में एससी चौपाल पर ताला लगाने की वजह से दो समुदाय आमने-सामने हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि अगड़े समुदाय के इशारे पर डीएसपी खुद चौपाल पर ताला लगाकर चाबी साथ ले गए हैं। उधर डीएसपी ने चौपाल में निर्माण कार्य पर अदालत से स्टे होने की बात कही है। इस मामले को लेकर अब ग्रामीणों ने नेशनल एससी कमीशन को भी शिकायत भेजी है। साथ ही सुरक्षा को लेकर एसपी से भी गुहार लगाई है।

ताले की वजह से बढ़ा विवाद: गुरु रविदास मंदिर कमेटी के प्रधान अमीचंद ने बताया कि 2014 में तत्कालीन पंचायत ने गांव में एससी चौपाल का निर्माण करवाया था। 28 अप्रैल 2017 को अगड़ी जाति के लोग जबरन चौपाल में घुस आए थे। तब इन लोगों ने निशान साहिब उखाड़कर चौपाल पर ताला लगा दिया था। कुछ लोगों के साथ मारपीट कर उन्हें जातिगत शब्द भी कहे थे। बाद में बड़ी मुश्किल से पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मारपीट व धमकाने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया था। सिर्फ चार लोगों को पकड़कर बाकी सभी को रिहा कर दिया। अमीचंद ने बताया कि इसके बाद कई बार निशान साहिब से छेड़छाड़ की कोशिश हुई। पुलिस को कई बार शिकायत दी पर कार्रवाई नहीं हुई।

यमुनानगर| एससी चौपाल पर लगा ताला।

31 को हाेना है कार्यक्रम

अमीचंद ने बताया कि कुछ समय पहले ही डीएसपी रणधीर सिंह ने एससी चौपाल पर ताला लगवा दिया था। तब वे चाबी साथ ले गए। चौपाल पर स्टे होने की बात कहकर वे चाबी देने से भी इंकार कर रहे हैं। गांव के चंद्रमोहन, बलबीर सिंह, रघुवीर सिंह व संदीप सिंह ने बताया कि 31 जनवरी को गांव में रविदास जयंती समारोह है। ऐसे में चौपाल पर ताला लगे होने से उन्हें दिक्कत हो रही है। इनका आरोप है कि दूसरा पक्ष भी उन्हें धमकियां दे रहा है। एसपी को शिकायत देकर सुरक्षा की गुहार लगाई है।

एससी चौपाल पर स्टे है। इसलिए उस पर ताला लगाया गया है। क्योंकि इसको लेकर दो समुदायों में विवाद है। शांति बहाली के लिए ही कार्रवाई की गई है। कुछ लोग मामले को तूल दे रहे हैं। सुरक्षा के लिए एसपी को दी गई शिकायत मेरे संज्ञान में नहीं है। | रणधीर सिंह, डीएसपी बिलासपुर

खोला जाए ताला : कांहड़ी

मामले की पैरवी कर रहे समाजसेवी सुरेश कांहड़ी ने तुरंत ताला खोलने की मांग की है। कांहड़ी ने कहा कि चौपाल में निर्माण करने पर स्टे है। जबकि पुलिस ने दूसरे पक्ष के दबाव में चौपाल पर ताला लगा दिया। डीएसपी को ताला लगवाने की बजाय पहले खुद मामले की जांच करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों के साथ वे जल्द ही एसपी से मुलाकात करेंगे। आरोप लगाया कि सियासी दबाव में पुलिस काम कर रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bilaspur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: maarvaa klaan mein essi chaupaal par taalaa, diespi le gae the chaabi, loga bole-isyaasi dvaab mein karrvaaee
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×