बिलासपुर

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Bilaspur
  • बोर्ड ने 10वीं का 80 की जगह 67 अंकों का प्रश्र पत्र भेजा
--Advertisement--

बोर्ड ने 10वीं का 80 की जगह 67 अंकों का प्रश्र पत्र भेजा

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने प्रीबोर्ड परीक्षाओं के प्रश्र पत्र में भी गलती कर दी। दसवीं कक्षा को 80 अंक के...

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 04:15 AM IST
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने प्रीबोर्ड परीक्षाओं के प्रश्र पत्र में भी गलती कर दी। दसवीं कक्षा को 80 अंक के स्थान पर 67 अंक का प्रश्र पत्र भेज दिया। बोर्ड की भूल का पता चलता ही शिक्षा निदेशालय ने पत्र जारी कर राज्य से सभी डीईओ को 67 अंकों में से ही सीसीई की वेटेज देने के निर्देश जारी कर दिए।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की ओर से पहली बार सरकारी स्कूलों में सीबीएसई की तर्ज पर प्रीबोर्ड परीक्षांए ली जा रही है। मंगलवार को दसवीं कक्षा का सोशल साइंस का पेपर था। जैसे ही प्रश्र पत्र खोला तो स्टूडेंट्स ने कम प्रश्र होने की शिकायत की। जिस पर शिक्षकों ने प्रश्र पत्र की जांच की तो पाया गया कि प्रश्र संख्या 13 के बाद प्रश्र संख्या 19 दी गई है।प्रश्र पत्र में प्रश्र संख्या 14 से 18 तक मिस प्रिंट था। जिस कारण 13 नंबर का प्रश्र गायब रहा। विद्यार्थियों ने 67 नंबर का पेपर ही दिया।

शिक्षा निदेशालय ने जारी किया संशोधन पत्र: मामले की शिकायत शिक्षकों ने शिक्षा निदेशालय को दी। जिस पर संज्ञान लेते हुए बोर्ड ने तुरंत पत्र जारी कर सभी डीईओ को आवश्यक निर्देश जारी किए। पत्र में कहा गया है कि शिकायत मिली है कि सामाजिक विज्ञान के प्रश्र पत्र में प्रश्र संख्या 14 से 18 तक मिस प्रिंट के कारण अंकित नहीं हो सकी है। इसलिए 67 अंकों में से ही बच्चों की सीसीई तय की जाए।

पहले पांच फरवरी को होना था पेपर

शिक्षकों ने बताया कि पहले यह पेपर पांच फरवरी को होना था। ऐन वक्त पर बोर्ड ने परीक्षा की तारीख में परिवर्तन कर दिया। जिसका कारण पांच फरवरी को राज्यभर में होने वाली नेशनल असेसमेंट बताया गया था। जिसके लिए लिखित परीक्षा होनी थी।

बोर्ड की भूल का पता चलते ही शिक्षा निदेशालय ने शिक्षा अधिकारियों को भेजा पत्र

X
Click to listen..