Hindi News »Haryana »Bilaspur» डंपर से बच्ची की मौत के बाद थाने में तोड़फोड़ करने वालों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज

डंपर से बच्ची की मौत के बाद थाने में तोड़फोड़ करने वालों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज

मामा की शादी में आई तीन वर्षीय वाणी की मौत के मामले में पुलिस ने ट्रक व डंपर चालक के विरुद्ध मामला दर्ज किया है...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 07, 2018, 04:15 AM IST

मामा की शादी में आई तीन वर्षीय वाणी की मौत के मामले में पुलिस ने ट्रक व डंपर चालक के विरुद्ध मामला दर्ज किया है दोनों वाहनों को भी पुलिस ने कब्जे में ले लिया है जबकि वाहनों के चालक मौके से फरार बताए जा रहे हैं। उधर, हादसे के बाद थाने में तोड़फोड़ करने के आरोप में पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। जांच के दौरान दूसरे आरोपियों की पहचान की जाएगी।

जांच अधिकारी एसआई राजेन्द्र सिंह ने बताया कि यह मामला वाणी के मामा नैब सैनी की शिकायत पर दर्ज किया गया है। वार्ड नंबर- एक से पंच नैब सैनी ने पुलिस को बताया कि उसके छोटे भाई की शादी में भाग लेने के लिए उसकी भांजी वाणी उनके घर पर आई हुई थी। सोमवार रात लगभग 9 वाणी को एक लोडिड ट्रक चालक ने अपनी चपेट में ले लिया था। इसके बाद दूसरा डंपर भी उस पर से गुजर गया। वाणी ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था। बाद में ट्रक की पहचान एचआर 58ए-0273 के तौर पर हुई।

50-60 लोगों ने किया हमला : एसएचओ सचिन ने बताया कि थाने में तोड़फोड़ व पुलिस कर्मियों पर जानलेवा हमला करने के आरोप में आठ लोगों पर केस दर्ज किया गया है।

यह मामला थाने के मुंशी एचसी बलबीर सिंह के बयानों पर दर्ज किया गया है। बलबीर सिंह की शिकायत में बताया गया है कि सोमवार रात लगभग 10 बजे 50-60 लोग जिनके हाथों में डंडे व तलवारें थी, यह लोग थाना के गेट से बाउंडरी में दाखिल हो गए। अंदर दाखिल होते ही इन लोगों ने चिल्लाकर थाने में आग लगाने व थाने में मौजूद पुलिस कर्मचारियों को जान से मारने की बात कही। भीड़ में धर्मबीर पुत्र जीराम, रोहित सैनी, साहिल सैनी, बंटी पुत्र ज्ञान, काला पुत्र धर्मचंद व उसके भाई, बंसी चाय वाले के बेटे व संजू डेरी वाला भी शामिल थे।

इन लोगों के अलावा बाकि लोगों ने पुलिस कर्मचारियों पर तलवारों से हमला करने का प्रयास किया। जिसे देखकर बलबीर सिंह ने साथी कर्मचारी ईएचसी कुलदीप के साथ मिलकर थाने को बड़ा गेट बंद करके कर्मचारियों को भीड़ के हमले से बचाने का प्रयास किया। इसके बावजूद भीड़ में शामिल लोगों ने थाने के भवन पर पथराव किया।

इन लोगों ने थाना परिसर में खड़ी पांच निजी कारों के अलावा थाना बिलासपुर की जिप्सी को पथराव व डंडों से काफी तोड़फोड़ की। इसके अलावा भी थाना के भवन पर पथराव करके नुकसान पहुंचाया गया।

चौराहों पर पुलिस तैनात, भारी वाहनों की आवाजाही रोकने के लिए बेरिकेड लगाने का काम भी शुरू

साढौरा| श्मशान घाट चौक पर पंचायत द्वारा बेरिकेड लगाने का काम शुरू।

चौराहों पर जवान तैनात बेरिकेड लगाने का काम शुरू

वाणी की मौत के बाद मंगलवार को भारी वाहनों की आवाजाही रोकने के लिए सुबह से ही कस्बे के सभी चौराहों पर पुलिस जवान तैनात कर दिए गए। आवाजाही रोकने के लिए पंचायत ने पशु अस्पताल से श्मशान घाट चौक के मध्य दो जगह बेरिकेड लगाने का काम भी शुरु कर दिया। हालांकि प्रशासन के इन प्रबंधों को लेकर भी लोगों ने सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। लोगों का कहना है कि इससे पूर्व भी जब कभी ऐसे हादसे हुए हैं तो पुलिस द्वारा भारी वाहनों की आवाजाही रोकने के बात कही जाती रही है। लेकिन इसके कुछ दिन वाहनों की आवाजाही फिर से सामान्य हो जाती है। कच्चा किला मार्ग पर भारी वाहनों की आवाजाही रोके जाने से सीएचसी के व्यस्त मार्ग पर आवाजाही शुरू होने से वहां इससे भी गंभीर हादसे होने की आशंका रहेगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×