Hindi News »Haryana »Bilaspur» दरियापुर में गम का दरियाः 2 माह पहले ब्याही बेटी-दामाद, पत्नी-साली व इकलौते बेटे की मौत

दरियापुर में गम का दरियाः 2 माह पहले ब्याही बेटी-दामाद, पत्नी-साली व इकलौते बेटे की मौत

बिलासपुर | गांव दरियापुर में परिवार के 5 लोगों की मौत के बाद गमजदा दादा करनैल सिंह। भास्कर न्यूज | बिलासपुर गांव...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 01, 2018, 02:00 AM IST

  • दरियापुर में गम का दरियाः 2 माह पहले ब्याही बेटी-दामाद, पत्नी-साली व इकलौते बेटे की मौत
    +1और स्लाइड देखें
    बिलासपुर | गांव दरियापुर में परिवार के 5 लोगों की मौत के बाद गमजदा दादा करनैल सिंह।

    भास्कर न्यूज | बिलासपुर

    गांव दरियापुर गम के दरिया में डूबा हुआ है। पब्लिक हेल्थ विभाग में कार्यकर्ता जोगिंद्र की प|ी रजवंत कौर, इकलौते बेटे गुरविंद्र हैप्पी, दो माह पहले ब्याही बेटी मनजिंद्र कौर, दामाद हरिंद्र सिंह और साली जसविंद्र की गुरुवार को करनाल में सड़क हादसे में मौत हो गई। परिवार में अब जोगिंद्र और बुजुर्ग पिता करनैल सिंह ही बचे हैं। गांव में माहौल गमगीन है। गांव के ही क्या एरिया के अन्य गांव के लोग भी दरियापुर में पहुंच गए। जोगिंद्र ने अपनी बेटी मनजिंद्र की शादी 31 मार्च को अम्बाला के गांव खानपुर के हरिंद्र सिंह के साथ की थी। रिश्तेदारियों में इस नए जोड़े की खुशी में प्रीति-भोज चल रहे थे।

    मनजिंद्र की एक मौसी डेराबस्सी रहती हैं। उन्होंने भी अपनी भांजी व दामाद को खाने का न्योता दिया था। जिसके लिए मनजिंद्र, पति हरिंद्र, भाई गुरविंद्र हैप्पी, मां रजवंत डेराबस्सी गए थे। यहां से बड़ी मौसी जसविंद्र उनको लेकर स्विफ्ट डिजायर कार में करनाल के शामगढ़ में पीर पर माथा टेकने गए। वहां से लौटते वक्त जीटी रोड पर समाना बाहू गांव के पास कार को कैंटर ने टक्कर मार दी। जिससे कार डिवाइडर को क्रॉस कर दूसरी तरफ ट्रक से टकरा गई। हादसे में पांचों की मौत हो गई। लंच के बाद सभी का कुरुक्षेत्र में मनजिंद्र के मामा के घर जाने का कार्यक्रम था। कार हरिंद्र चला रहा था।

    गुरविंद्र हैप्पी रजवंत कौर

    अम्बाला के गांव खनपुरा के रहने वाले हरिन्द्र सिंह व उसकी प|ी मनिन्द्र कौर।

    हैप्पी विदेश जाने की, परिवार बहू लाने कर रहा था तैयारी :हैप्पी दो बहनों का इकलौता भाई था। वह विदेश जाने की तैयारी कर रहा था। परिवार में हैप्पी की शादी को लेकर भी चर्चा चल रही थी। परिवार चाहता था कि हैप्पी शादी कर विदेश जाए। डेढ़ साल पहले भी हैप्पी हादसे का शिकार हुआ था। तब उसकी टांग टूट गई थी। परिवार के पास दो से ढाई एकड़ जमीन है।

  • दरियापुर में गम का दरियाः 2 माह पहले ब्याही बेटी-दामाद, पत्नी-साली व इकलौते बेटे की मौत
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bilaspur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दरियापुर में गम का दरियाः 2 माह पहले ब्याही बेटी-दामाद, पत्नी-साली व इकलौते बेटे की मौत
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×