• Hindi News
  • Haryana
  • Bilaspur
  • खाद्य आपूर्ति कार्यालय बदला, नहीं मिल रहा पूरा राशन

खाद्य आपूर्ति कार्यालय बदला, नहीं मिल रहा पूरा राशन / खाद्य आपूर्ति कार्यालय बदला, नहीं मिल रहा पूरा राशन

Bilaspur News - बीस किलोमीटर के दायरे में खाद्य आपूर्ति विभाग के कार्यालय बंद करने से उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा...

Bhaskar News Network

Jun 12, 2018, 02:10 AM IST
खाद्य आपूर्ति कार्यालय बदला, नहीं मिल रहा पूरा राशन
बीस किलोमीटर के दायरे में खाद्य आपूर्ति विभाग के कार्यालय बंद करने से उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। खाद्य आपूर्ति विभाग ने बिलासपुर, मुस्तफाबाद व छछरौली के फूड सप्लाई आफिस बंद कर दिए हंै। जिससे इन खंडों के उपभोक्ताओं को अब राशन कार्ड व अन्य समस्याओं के निवारण के लिए गुलाबनगर स्थित एएफएसओ कार्यालय के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। विभाग की पालिसी का खामियाजा डिपो होल्डर्स व उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है। डिपोधारकों का कहना है कि उन्हें पूरा राशन नहीं दिया जा रहा है। जिससे उपभोक्ता उनसे झगड़ते हैं। ऑन लाइन सिस्टम होने से बहु से कार्ड काट दिए हैं। डिपोधारकों का कहना है कि राशन कार्ड को आन लाइन काम व राशन कार्ड को आधार से लिंक करवाने में दिक्कतें हैं।

जिसके चलते लोगों का राशन काट दिया गया है। डिपो होल्डर्स नितिन कुमार, अनिल कुमार, राहुल कुमार, मोहित कुमार ने बताया कि उनके पास डिपो में राशन कार्ड के अनुपात में पूरा राशन नहीं मिल रहा है। नितिन कुमार ने बताया कि उनके डिपो में राशन कार्ड के अनुपात में 86 किलो चीनी व 172 लीटर सरसों का तेल आना चाहिए। लेकिन उसे इस माह 152 लीटर तेल व 63 किलो चीनी ही मिली। जिसे उपभोक्ताओं में पूरी मात्रा में वितरण करने में परेशानी आती है। इस बाबत कई बार विभाग के अधिकारियों को भी अवगत कराया जा चुका है लेकिन आज तक कोई समाधान नहीं हुआ।

कार्यालय में अभद्र व्यवहार का आरोप

गुलाबनगर कार्यालय में राशन कार्ड ठीक करवाने गए उपभोक्ताओं ने आरोप लगाया कि वहां उनके साथ अभद्र व्यवहार किया गया। वहां पर कोई अधिकारी न मिलने से उनकी समस्या का समाधान न हो सका। इस बाबत खाद्य आपूर्ति निरीक्षक बालक राम का कहना है कि किसी भी उपभोक्ता को परेशानी नहीं आने दी जाएगी। अभी स्टाफ भी कम है। शीघ्र ही गुलाबनगर कार्यालय पूर्ण रूप से कार्य करने लगेगा।

X
खाद्य आपूर्ति कार्यालय बदला, नहीं मिल रहा पूरा राशन
COMMENT