बिलासपुर

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Bilaspur
  • एक लाख कट्टों का नहीं हो पाया उठान, खरीद बंद होने से किसान परेशान, बोले-कहां लेकर जाएं गेहूं
--Advertisement--

एक लाख कट्टों का नहीं हो पाया उठान, खरीद बंद होने से किसान परेशान, बोले-कहां लेकर जाएं गेहूं

किसान हर रोज मंडी में गेहूं लेकर पहुंच रहे हैं। सरकार खरीद नहीं कर रही है। ऐसे में मंडी में पड़े एक लाख गेहूं के...

Dainik Bhaskar

May 08, 2018, 02:15 AM IST
किसान हर रोज मंडी में गेहूं लेकर पहुंच रहे हैं। सरकार खरीद नहीं कर रही है। ऐसे में मंडी में पड़े एक लाख गेहूं के कट्टे आढ़तियों के सिर मढ़ दिए गए हैं। जिससे वे काफी परेशान हैं। उनका कहना है कि सरकार को तय समय तक किसानों की फसल की खरीद करनी चाहिए।

स्थानीय अनाज मंडी में हर रोज 20 से 30 किसान अपनी फसल लेकर पहुंच रहे हैं। लेकिन खरीद एजेंसी वेयरहाउस के मैनेजर संदीप कुमार ने यह कहकर बोली न करवाने की बात कही कि सरकार ने खरीद बंद कर दी है। मंडी में गेहूं लेकर पहुंचे कूपरीकलां के किसान जगमेल सिंह, खानूवाला के सरपंच भाग सिंह, निर्मल सिंह जटहेड़ी, महिंदर सिंह खानूवाला, ओमप्रकाश चिंतपुर, मामचंद रामपुर खादर व मारवाकलां गांव के नंबरदार करनैल सिंह का कहना है कि उनकी गेहूं नहीं खरीदी जा रही है। उन्होंने बताया कि अभी तो कुछ किसानों की फसल खेत में ही खड़ी है। आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान दलजीत सिंह बाजवा का कहना है कि पांच मई को मंडी में 16720 क्विंटल गेहूं खरीदी गई। खरीद एजेंसी आढ़तियों को पहले कम आवक लिखवाने के लिए कह कर बाद में बोली करवाने की बात कह रहे थे। लेकिन अचानक खरीद बंद कर दी। उनका कहना है कि हर आढ़ती के पास एक हजार से दो हजार कट्टे गेहूं अनसोल्ड पड़ी है। यदि सरकार ने इसे नहीं खरीदा तो आढ़ती इसे कहां लेकर जाएंगे। उन्होंने सरकार से मांग की है कि 15 मई तक किसानों का दाना दाना खरीदे सरकार। मौके पर पूर्व प्रधान बरखाराम, लाभ सिंह, जितेंद्र कुमार, गिरीश कुमार, मनीश कुमार, आर्यन गुप्ता, शिव कुमार, कमल प्रकाश, अमित गुप्ता, अजय राणा समेत अन्य आढ़ती उपस्थित रहे।

X
Click to listen..