Hindi News »Haryana »Bilaspur» लोहगढ़ का स्थापना दिवस, समागम में जुटेंगे 50 हजार श्रद्धालु

लोहगढ़ का स्थापना दिवस, समागम में जुटेंगे 50 हजार श्रद्धालु

सिख राज की पहली राजधानी किला लौहगढ़ के स्थापना दिवस को समर्पित महान गुरमत समागम में 50 हजार से अधिक संगत पहुंचेगी।...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 24, 2018, 02:15 AM IST

लोहगढ़ का स्थापना दिवस, समागम में जुटेंगे 50 हजार श्रद्धालु
सिख राज की पहली राजधानी किला लौहगढ़ के स्थापना दिवस को समर्पित महान गुरमत समागम में 50 हजार से अधिक संगत पहुंचेगी। करीब पांच एकड़ में टेंट लगाया जा रहा है। लंगर की व्यवस्था नाडा साहिब गुरुद्वारा के मैनेजर नरेंद्र सिंह संभालेंगे। बुधवार को समागम की तैयारियों का जायजा लेने के लिए एसजीपीसी के पूर्व मीत प्रधान बलदेव सिंह कायमपुर लोहगढ़ साहब पहुंचे। उन्होंने बताया कि 27 मई को होने वाले महान गुरमत समागम में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी श्री अमृतसर के प्रधान भाई गोबिंद सिंह लौगोंवाल, दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के पदाधिकारियों समेत निहंग जत्थेबंदियों के प्रतिनिधि पहुंचेंगे। लोहगढ़ साहिब में गुरुद्वारा साहिब के भवन बन चुका है। निर्माण कार्य कार सेवा बाबा सुक्खा सिंह करनाल वाले कर रहे हैं।

गांव-गांव किया जा रहा प्रचार: बीबी मनजीत कौर गधौला, भूपिंद्र सिंह असंध व सिख मिशन हरियाणा कुरुक्षेत्र की टीम समागम का प्रचार-प्रसार कर रही है। सिख मिशन प्रभारी कथावाचक मंगप्रीत सिंह, प्रचारक सतनाम सिंह, रणजीत सिंह, मनवीत सिंह, गुरप्रीत सिंह, गुरपाल सिंह सहित ढाडी जत्थे गांव-गांव प्रचार कर रहे हैं। फिल्म दिखाने वाली वीडियो वैन के माध्यम से भी समागम का प्रचार किया जा रहा है। मौके पर नरिंद्र सिंह, एसजीपीसी सब ऑफिस प्रभारी परमजीत सिंह दुनिया माजरा, इंटर्नल ऑडिटर बेअंत सिंह, कर्मजीत सिंह, भूपिंदर सिंह, केसर सिंह, सरपंच परमिंद्र सिंह, जसवंत सिंह, गुरसिमरन सिंह, करनैल सिंह, हरपाल सिंह समेत अन्य मौजूद रहे।

समागम की तैयारी

पांच एकड़ में लगेगा टेंट, बलदेव कायमपुर ने लिया तैयारियों का जायजा, गांवों में किया जा रहा प्रचार

बिलासपुर| तैयारियों का जायजा लेते एसजीपीसी के पूर्व वरिष्ठ उपप्रधान जत्थेदार बलदेव सिंह कायमपुर।

25 से शुरू होगा अखंड पाठ

नवनिर्मित गुरुद्वारा में 25 को तीन दिवसीय गुरु ग्रंथ साहिब का अखंड पाठ रखा जाएगा। 27 को पाठ की संपूर्णता पर दीवान सजेंगे। साथ ही गुरु का अटूट लंगर बरताया जाएगा। श्री दरबार साहिब अमृतसर से हजूरी रागी भाई ओंकार सिंह, धर्म प्रचार कमेटी का कविशरी जत्था भाई गुरइंदरपाल सिंह बैंका, ढाडी जत्था भाई गुरभेज सिंह चविंडा और पंथक ढाडी जत्था ज्ञानी गुरप्रीत सिंह लांडरां गुरमत समागम में संगत को गुरु इतिहास से जोड़ेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×