Hindi News »Haryana »Bilaspur» बिलासपुर गर्ल्स काॅलेज में अब लड़के भी ले सकेंगे एडमिशन

बिलासपुर गर्ल्स काॅलेज में अब लड़के भी ले सकेंगे एडमिशन

प्रदेश सरकार ने गवर्नमेंट गर्ल्स काॅलेज कपालमोचन अहड़वाला को कोएड करने की घोषणा कर दी है। अब इस कालेज में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 08, 2018, 02:15 AM IST

प्रदेश सरकार ने गवर्नमेंट गर्ल्स काॅलेज कपालमोचन अहड़वाला को कोएड करने की घोषणा कर दी है। अब इस कालेज में लड़कियों के साथ-साथ लड़के भी मौजूदा सत्र से दाखिला ले सकेंगे। इस बाबत एडिशनल चीफ सेक्रेटरी हरियाणा सरकार ने नोटिस जारी कर राजकीय काॅलेज छछरौली व भेरियां पिहोवा के प्रिंसिपल को काॅलेज का स्टेट्स बदलने संबंधी निर्देश दिए है।

प्रदेश सरकार ने हाल ही में राज्य में 31 गर्ल्स कालेज खोलने की घोषणा की थी। जिनमें से एक गर्ल्स कालेज कपालमोचन में शुरू हुआ है। पहले इन कालेज में केवल लड़कियों को दाखिला दिया जाना था। लोगों की मांग को देखते हुए सरकार ने छह जून को पत्र जारी कर इन्हें गवर्नमेंट कालेज का दर्जा दे दिया। जारी पत्र के अनुसार गवर्नमेंट कालेज फार गर्ल्स बिलासपुर व गवर्नमेंट काॅलेज फार गर्ल्स चामूकलां कुरूक्षेत्र को गवर्नमेंट कालेज में बदल दिया है। अब इन कालेजों में लड़के भी शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे।

कॉलेज प्रशासन, बिलासपुर व अहड़वाला पंचायत प्रशासन की ओर से इस बाबत पूरे क्षेत्र में मुनादी करवाई जा रही है। गर्ल्स काॅलेज का कोएड बनाने पर सरपंच गुरदेव सिंह चंद्रमोहन कटारिया, पवन बीहटा, शिवदत्त कांबोज, डॉक्टर सुभाष मोदगिल, विजय शर्मा, सुरेश कुमार, अश्वनी मंगला व अन्य ने सीएम मनोहर लाल खट्टर व हलका साढौरा विधायक चौधरी बलवंत सिंह का आभार प्रकट किया है।

दाखिला

प्रदेश सरकार ने गवर्नमेंट गर्ल्स काॅलेज कपालमोचन अहड़वाला को कोएड करने की घोषणा की, प्रतिनिधियों ने फैसले को सराहा

रादौर में गर्ल्स कॉलेज के लिए प्रवेश शुरू, पहले दिन आए दस आवेदन

रादौर | निर्माणाधीन सरकारी गर्ल्स कॉलेज में बुधवार से दाखिला प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। पहले दिन ऑन लाइन 10 छात्राओं ने कॉलेज में प्रवेश के लिए आवेदन किया। कॉलेज अप्रैल 2019 तक बनकर तैयार हो जाएगा। तब तक सरकारी स्कूल रादौरी में अस्थाई तौर पर 7 कमरों में कॉलेज की छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर सकेंगी। वीरवार को कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. ललित कुमार जैन व स्टाफ सदस्यों के अलावा नपा वाइस चेयरमैन रोशनलाल सैनी, एमसी भगवतदयाल, एमसी देवेन्द्र लक्की, एमसी कुलदीप नंबरदार आदि ने सरकारी स्कूल रादौरी का दौरा किया।

प्रिंसिपल डॉ. ललित कुमार जैन ने बताया कि निर्माणाधीन सरकारी गर्ल्स कॉलेज रादौरी में बीए, बीकॉम, बीकॉम (कंप्यूटर एप्लीकेशन, वोकेशनल) व बीसीए प्रथम वर्ष की कक्षाओं के लिए आवेदक ऑनलाइन लिए जा रहे है। यह दाखिले 6 जून से 22 जून तक www.highereduhry.com वेबसाइट पर ऑनलाइन किया जा सकता है। बीए में प्रवेश के लिए छात्राओं की फीस करीब 4500 रुपए, बीकॉम में 3500 रुपए और बीसीए में सात हजार रुपए वार्षिक होगी। छात्राओं को फ्री बस पास सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। एससी वर्ग की छात्राओं को 14 हजार रुपए, बीसी वर्ग की छात्राओं व प्रतिभावान छात्राओं को भी स्कॉलरशिप दी जाएगी। उन्होंने बताया कि 13 जुलाई से सरकारी स्कूल रादौरी में अस्थाई तौर पर छात्राओं की कक्षाएं शुरू कर दी जाएंगी। कॉलेज के लिए स्टाफ उपलब्ध हो गया है।

इधर, विधायक राणा बोले- रादौरी कॉलेज हो कोएड

रादौरी में बनाए गए गर्ल्स कॉलेज को कोएजुकेशन कॉलेज करने की मांग को लेकर विधायक श्यामसिंह राणा निदेशक हायर एजुकेशन विजय दहिया से मिले और मांगपत्र देकर सरकारी गर्ल्स रादौरी को एजुकेशन कॉलेज बनाने की मांग की। विधायक श्यामसिंह राणा ने कहा कि मात्र गर्ल्स कॉलेज बनने से क्षेत्र के लोगों को सरकारी कॉलेज का इतना लाभ नहीं मिलेगा। इसलिए गर्ल्स कॉलेज को लड़के व लड़कियों के लिए बनवाया जाए है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bilaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×