• Home
  • Haryana News
  • Chhachhrauli
  • ई-पंचायत : ब्लाॅक के सरपंच हुए एकजुट, 124 पंचायतों का कामकाज बंद करने की चेतावनी
--Advertisement--

ई-पंचायत : ब्लाॅक के सरपंच हुए एकजुट, 124 पंचायतों का कामकाज बंद करने की चेतावनी

प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली के विरोध में सरपंचों ने रेस्ट हाउस पर प्रदर्शन किया। चंडीगढ़ में सरपंचों व सचिवों...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:00 AM IST
प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली के विरोध में सरपंचों ने रेस्ट हाउस पर प्रदर्शन किया। चंडीगढ़ में सरपंचों व सचिवों के साथ किए गए अशोभनीय व्यवहार के लिए सरकार की कड़े शब्दों में निंदा की। सभी सरपंचों ने निर्णय लिया कि गांव में किसी भी विधायक को नहीं आने दिया जाएगा।

सरपंच एसोसिएशन ब्लाॅक छछरौली प्रधान विरेन्द्र सिंह व ब्लाॅक एसोसिएशन प्रधान खिजराबाद प्रवीण कुमार ने बताया कि प्रदेश के सभी सरपंच पंचायतों को ई पंचायत करने का विरोध कर रहे हैं। जिसके बारे में पूरे प्रदेश के सरपंच व ग्राम सचिव चंडीगढ़ में अपनी मांग को शांतिप्रिय ढंग से सरकार के सम्मुख रखने के लिए गए थे। उन्होंने बताया कि पहले तो प्रदेश सरकार सरपंचों को बिना बात के गिरफ्तार किया ओर उसके बाद सरपंचों व ग्राम सचिवों के प्रतिनिधि मंडल को बातचीत के लिए सीएम हाउस बुलाकर अपमानित किया । इस दौरान सरपंचों व ग्राम सचिवों के साथ अभद्रता भी हुई। प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा सरपंचों को अपमानित करने पर सभी सरपंचों ने ब्लाक स्तर पर मीटिंग व सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन करके पंचायती कामकाज व गांवों में विधायकों के आने पर पंचायत स्तर पर रोक लगा दी है। सरपंचों का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्र में एक सरपंच का बहुत ही मान सम्मान होता है और प्रदेश के मुख्यमंत्री सत्ता के नशे में इतना चूर हो गया है कि उसको किसी के मान सम्मान की भी परवाह नही है।