Hindi News »Haryana »Dulhera-badli» ढीले व जर्जर तार कर सकते हैं किसानों की मेहनत काे खाक

ढीले व जर्जर तार कर सकते हैं किसानों की मेहनत काे खाक

किसानों की गेहूं की फसल खेतों में पक कर तैयार हो चुकी है। उम्मीद जताई जा रही है कि 15 अप्रैल तक गेंहू की कटाई का काम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:15 AM IST

ढीले व जर्जर तार कर सकते हैं किसानों की मेहनत काे खाक
किसानों की गेहूं की फसल खेतों में पक कर तैयार हो चुकी है। उम्मीद जताई जा रही है कि 15 अप्रैल तक गेंहू की कटाई का काम लगभग किसान निपटा चुका होगा। गेहूं की कटाई के काम में किसान लग चुका है। इन सबके बीच किसानों की फसलों के ऊपर खेतों में लकड़ी के डंडों, झुके खंभों पर लगे जर्जर, पुराने व ढीले तारों का जाल किसानों की मेहनत को पलभर में खाक कर सकता है।

हर बार गेहूं व धान के सीजन में आंधी, तूफान व बरसात के कारण बिजली के तारों का टूटकर गिरना व आपस में टकराकर चिंगारियां निकलने के कारण फसलों में आग लगने की घटना घटती रहती है। ऐसा नहीं है कि इस गंभीर व विकराल समस्या के बारे में किसानों द्वारा निगम के उच्चाधिकारियों व अधिकारियों के अपनी बात भी रखी हैं। तमाम शिकायतों के बाद भी उक्त समस्या आज भी बनी हुई है। किसान मांगेराम, नसीब सिंह , शेर सिंह जिले सिंह, मामचंद, फकीरचंद, रोशनलाल, पुनीत कुमार, राजेश कुमार किसानों ने बताया कि तारों के कारण किसानों का हर वर्ष लाखों, करोड़ों का नुकसान होता है। खड़ी या कटी हुई फसले पलभर में जलकर खाक हो जाती है। किसानों ने निगम के उच्चाधिकारियों से मांग की है कि खेतों में लटक रहे तारों को कसवाया जाए ताकि गेहूं कटाई व कडाई के दौरान कोई समस्या पैदा न हो।

कटी फसल को किसान बिजली की तारों से दूर रखें

बिजली निगम बादली के एसडीओ खूबचंद ने कहा कि निगम द्वारा खेतों के ऊपर से गुजर रहे पुराने तारों को बदलने का क्रम लगातार चलता रहता है। ढीले तारों को कसा जा रहा है। गांव से किसानों द्वारा तारों की समस्या की शिकायत की जाती है, उस पर विभाग द्वारा तत्काल कार्रवाई की जाती है। गेहूं के सीजन की कटाई के दौरान किसानों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करने दिया जाएगा। इसके साथ ही एसडीओ ने किसानों से आह्वान किया कि किसानों को भी सावधानी से काम लेना चाहिए। फसल कटने के उपरांत उन्हें बिजली के तारों से दूर लगाएं। किसी फाल्ट की स्थिति में हालांकि बिजली अपने आप कट जाती है। इसके उपरांत भी निगम में सूचना दे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dulhera-badli

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×