दुलहेरा बदली

--Advertisement--

पंडित जागेराम आईटीआई को एनसीवीटी का दर्जा देने की मांग

Dainik Bhaskar

Apr 21, 2018, 02:10 AM IST

भास्कर न्यूज | बादली

जहांगीरपुर गांव में पंडित जागेराम की ओर से दान की गई जमीन में आईटीआई में एनसीवीटी ट्रेड लागू न होने के कारण आसपास के गांवों के ग्रामीणों में सरकार के प्रति रोष है। ग्रामीण गांव में एनसीवीटी ट्रेड लागू करवाने के लिए बादली हलके के विधायक और मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ व मंत्री विपुल गोयल से भी गुहार लगा चुके है।

चार जनवरी को पंडित जागेराम की मूर्ति अनावरण के दौरान मंत्री विपुल गोयल ने घोषणा करके झूठी वाहवाही लूटी। उन्होंने ग्रामीणों को संबोधन में आईटीआई में एनसीवीटी ट्रेड लागू करने का आश्वासन दिया था। चार माह बीतने के बाद भी एनसीवीटी ट्रेड लागू नहीं हुई है। ग्रामीण होशियार सिंह गुलिया दरियापुर, कुलदीप सरपंच जहांगीरपुर, सतबीर गुलिया, प्रकाश पंडित, बलबीर नंबरदार, सुंदर पूर्व पंच, सुखबीर ने कहा कि चार जनवरी को पंडित जागेराम की मूर्ति अनावरण के दौरान मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ व विपुल गोयल के सामने ग्रामीणों ने एनसीवीटी की मान्यता की मांग कि थी।

ग्रामीणों ने बताया कि फिलहाल आईटीआई में एससीवीटी के कोर्स चल रहे हैं। ग्रामीणों ने एक मांग पत्र के माध्यम से सरकार के मांग की है कि जल्द पं जागेराम आईटीआई को एनसीवीटी का दर्जा दिया जाए। ग्रामीणों ने कहा कि अगर एक सप्ताह के अंदर आईटीआई को एनसीवीटी का दर्जा नहीं दिया गया तो सरकार के प्रति एक आंदोलन की रूपरेखा तैयार करेंगे। मुख्यमंत्री से लेकर पीएम नरेन्द्र मोदी तक का दरवाजा खटखटाएंगे। जंहागीरपुर के सरपंच कुलदीप का कहना है कि आईटीआई एनसीवीटी के दर्जे को लेकर पंचायत की ओर से एक मांग पत्र सौंपा गया, मगर आईटीआई को एनसीवीटी का दर्जा न देने के कारण छात्रों की संख्या में दिनों दिन कमी हो रही है।

X
Click to listen..