Hindi News »Haryana »Dulhera-badli» एनसीआर नहर में डूबने से यूपी के युवक की मौत

एनसीआर नहर में डूबने से यूपी के युवक की मौत

बादली से गुजरने वाली एनसीआर नहर में गांव दरियापुर के नजदीक डूबने से यूपी के युवक की मौत हो गई। युवक के साथ उसके चार...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 05, 2018, 02:15 AM IST

एनसीआर नहर में डूबने से यूपी के युवक की मौत
बादली से गुजरने वाली एनसीआर नहर में गांव दरियापुर के नजदीक डूबने से यूपी के युवक की मौत हो गई। युवक के साथ उसके चार अन्य साथी भी थे, जिन्होंने चीख पुकार कर अन्य लोगों को बुलाया। मजदूरों व ग्रामीणों की मदद से युवक को लगभग एक घंटे बाद नहर से निकाला। जब तक युवक को नहर से निकाला जाता तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

पुलिस ने मौके पर पहुंच आवश्यक कानूनी कार्रवाई के उपरांत मृतक युवक को बहादुरगढ़ सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बादली चौकी प्रभारी, ब्लॉक सरपंच एसोसिएशन के प्रधान अमित कुमार बादली, दरियापुर के सरपंच संदीप कुमार ने बताया कि यूपी के मुरादाबाद जिले में रहने वाले 5 मित्र नहर के किनारे से गुजर रहे थे। उसी समय गांव दरियापुर को जाने वाली पुल के पास नहर में बनी इस सीढ़ियों को देख कर मोहसीम उम्र 21 वर्ष नहर में पैर धोने के लिए उतर गया। उस समय तक उसके चार अन्य साथियों का ध्यान उस तरफ नहीं था। मोहसीम जैसे ही सीढ़ियों पर पहुंचा उसका पैर फिसल गया और नहर में डूबने लगा। उसके चार अन्य साथी अब्दुल कादिर, आजम अली, अब्दुल वारिस, व अब्दुल ने उसे अपने स्तर पर बचाने का प्रयास किया। उन चारों को भी तैरना नहीं आता था, इसलिए वह नहर में उतर कर अपने साथी को नहीं बचा पाए।

नहर में पैर धोने के लिए उतरा प्रवासी मजदूर फिसला

बादली. मोहसीम के दोस्तों से पूछताछ करती पुलिस, साथ में बादली प्रधान अमित कुमार।

दोस्तों ने मोहसीम काे डूबता देख शोर मचाया:चारों दोस्तों ने शोर मचाया तो नहर के पास बन रहे केएमपी हाईवे पर काम कर रहे मजदूरों ने तुरंत नहर पर पहुंचकर पानी में छलांग लगाई। मामले की सूचना दरियापुर के सरपंच संदीप कुमार, अमित प्रधान बादली को भी मिली। वे तुरंत मौके पर पहुंचे। नहर में युवक की डूबने की सूचना बादली पुलिस को भी दी गई। चौकी प्रभारी श्रीभगवान पुलिस के जवानों के साथ तुरंत मौके पर पहुंचे गए।

मकानों पर रंग, पेंट का काम करता था युवकमोहसीम के दोस्त अब्दुल कादिर, आजम अली, अब्दुल वारिस व अब्दुल ने बताया कि वे आसपास के गांव में जहां भी काम मिल जाता है। मकानों पर रंग, पेंट, पुट्टी का काम करते हैं। फिलहाल वे बादली में काम कर रहे थे और वहीं पर रहते हैं। घूमने के लिए नहर पर आए थे। उसी दौरान मोहसीम पैर धोने के लिए नहर में उतरा था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dulhera-badli

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×