Home | Haryana | Dulhera-badli | लगरपुर व देवरखाना गांव के खेतों में दोपहर को लगी आग

लगरपुर व देवरखाना गांव के खेतों में दोपहर को लगी आग

सोमवार दोपहर को अचानक अज्ञात कारणों के चलते गांव लगरपुर में खेतों में आग लग गई। आग लगने के कारण गांव लगरपुर के...

Bhaskar News Network| Last Modified - Apr 25, 2018, 02:20 AM IST

लगरपुर व देवरखाना गांव के खेतों में दोपहर को लगी आग
लगरपुर व देवरखाना गांव के खेतों में दोपहर को लगी आग
सोमवार दोपहर को अचानक अज्ञात कारणों के चलते गांव लगरपुर में खेतों में आग लग गई। आग लगने के कारण गांव लगरपुर के किसानों की 10 एकड़ जमीन में गेहूं काटने के बाद छोड़े गए नालवें में आग लगी। ग्रामीणों ने जैसे-तैसे करके आग पर काबू पाया।

आग लगरपुर गांव में तो किसानों ने काबू कर ली, लेकिन हवा की दिशा के चलते आग बादली-गुरुग्राम रोड के दूसरी तरफ के खेतों में लग गई, जोकि गांव देवरखाना का रकबा था। देखते ही देखते आग गुरुग्राम रोड से गांव देवरखाना की ओर जाने वाले रोड पर चली गई। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने आग पर काबू पाया। जानकारी के अनुसार लगभग 10 एकड़ जमीन में गांव लगरपुर व लगभग 10 एकड़ जमीन में ही गांव देवरखाना के रकबे में आग लगी। जानकारी है कि आग के कारण किसी किसान को कोई किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ। किसानों द्वारा जिस क्षेत्र में आग लगी वहां से अपनी गेहूं की फसल का काम पूरा किया जा चुका था। खेतों में मात्र गेहूं का नालवा बचा हुआ था, जिस में आग लगी। किसानों को मामूली रुप से नालवें का जरूर आर्थिक नुकसान हुआ। इसके अलावा और आग के चलते किसी प्रकार के नुकसान की सूचना नहीं है। फायर ब्रिगेड विभाग द्वारा गांव देवरखाना में आग पर काबू पा लिया गया।

बादली. लगरपुर गांव में आग को बढ़ने से रोकने का प्रयास करते किसान।

किसान खेतों में जला रहे नलवा

बादली | वर्तमान समय में चल रहे गेहूं कटाई के मौसम में किसानों द्वारा अब रात के समय गेहूं के नालवें को खेंतों में जलाया जा रहा है। गेहूं का नालवा हो या धान की पराली इनको न जलाने को लेकर सरकार व प्रशासन प्रतिवर्ष किसानों से आह्वान करते हैं। पराली व नालवें को खेतों में जलाने पर दंड का प्रावधान भी सरकार व प्रशासन द्वारा किया गया है। इसके बाद भी धान के सीजन में पराली जलाने व गेहूं के सीजन में नालवा जलाने की घटनाएं आम तौर पर देखी जाती हैं। ऐसी घटनाएं एक बार फिर क्षेत्र में दिखाई देने लगी हैं। उपमंडल के निकटवर्ती गांव पेलपा में रविवार की रात को गांव के किसानों द्वारा 10 एकड़ जमीन के गेहूं के नालवें को जलाया गया। इसके अलावा भी ऐसी घटनाएं गेहूं कटाई के इस मौसम में लगातार देखने को मिल रही है। कृषि अधिकारी एसडीओ सुनील कुमार ने इस विषय में कहा कि विभाग द्वारा किसानों को लगातार जागरुक किया जा रहा है कि वह खेतों में गेहूं का नलवा न जलाएं।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now