• Hindi News
  • Haryana News
  • Dulhera-badli
  • बादली सीएचसी का विस्तार करने के लिए नहीं मिल रही जमीन, प्राेजेक्ट जा सकता है वापस
--Advertisement--

बादली सीएचसी का विस्तार करने के लिए नहीं मिल रही जमीन, प्राेजेक्ट जा सकता है वापस

बादली में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूअर्बन योजना के तहत बनने वाली सीएचसी की बड़ी इमारत का ग्रामीणों का सपना खटाई...

Dainik Bhaskar

Apr 25, 2018, 02:20 AM IST
बादली में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूअर्बन योजना के तहत बनने वाली सीएचसी की बड़ी इमारत का ग्रामीणों का सपना खटाई में पड़ता नजर आ रहा है। सीएचसी बादली को अपग्रेड होने का दशकों पुराना कस्बे के लोगों का सपना ऐसा लगता है सपना ही बनकर रह जाने वाला है। ग्रामीणों की दशकों पुरानी मांग पर नई इमारत के लिए पैसा आया हुआ है। अब समस्या बन गई है सीएचसी की बड़ी इमारत के लिए छ: एकड़ प्रर्याप्त जमीन का न होना।

ग्रामीणों के दशकों के प्रयास व कड़ी मशक्कत के बाद सीएचसी बादली की बड़ी इमारत का, बड़े अस्पताल का बजट पास होकर आ गया। पैसा आए लगभग दो माह का समय हो चुका है। उम्मीद के अनुसार अब तक काम भी प्रोजेक्ट पर शुरू हो जाना था, लेकिन काम शुरू होने में देरी का सामना करना पड़ रहा है। इसका कारण है इमारत बनाने के लिए सबसे पहली जरूरत जमीन की है। प्रर्याप्त जमीन ग्राम पंचायत के पास उपलब्ध नहीं है। पंचायत के पास जो जमीन है वह गांव से काफी दूर है। सरकार प्रोजेक्ट के लिए जमीन का अधिग्रहण करेंगी नहीं। ऐसे में अब संभावना लगभग बन चुकी है कि कस्बा बादली व आसपास के लगभग दो दर्जन गांवों के लोगों का बड़ी इमारत व सभी सुविधाओं से लैंस एक बड़ी सीएचसी का सपना मात्र सपना ही रह जाएगा।

पैसा आए दो माह हुए, जमीन तक नहीं

लगभग दो माह पहले ही विभाग की ओर से पंचायत के पास एक पत्र भेजा गया था। बता दें कि केंद्र की तरफ से कस्बे में एक बड़ा अस्पताल बनाने की योजना तैयार की गई। इस योजना के तहत कस्बे में छ: एकड़ जमीन पर अस्पताल बनाया जाएगा। अस्पताल के लिए स्वास्थ्य विभाग को बजट पास करके भेज दिया गया।

दो माह बीतने के बाद भी जमीनी प्रक्रिया पूरी नहीं हो पा रही है। पंचायत छ: एकड़ जमीन विभाग को अस्पताल बनाने के लिए नहीं दे पा रही है। अब डर है कि सीएचसी के लिए जमीन नहीं मिलने से कस्बे के लोगों को मिलने वाला प्रोजेक्ट कही खटाई में न आ जाए। मिला हुआ पैसा कहीं वापस न हो जाए। जिला स्वास्थ्य विभाग ग्राम पंचायत से जमीन देने को लेकर कई बार आग्रह कर चुका है। दो माह बीतने के बाद भी अभी तक ग्राम पंचायत की तरफ से जमीन को चिन्हित नहीं किया जा सका।

जल्द जमीन नहीं दी गई तो पैसा वापस हो जाएगा



X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..