दुलहेरा बदली

--Advertisement--

लोकल रूटों पर बसें नहीं चलने से ग्रामीण परेशान

बादली क्षेत्र के ज्यादातर लोकल रूटों पर बसें नहीं चल रही है। क्षेत्र के दर्जनों ऐसे रूट हैं जहां न रोडवेज की बसें...

Dainik Bhaskar

Apr 25, 2018, 02:20 AM IST
लोकल रूटों पर बसें नहीं चलने से ग्रामीण परेशान
बादली क्षेत्र के ज्यादातर लोकल रूटों पर बसें नहीं चल रही है। क्षेत्र के दर्जनों ऐसे रूट हैं जहां न रोडवेज की बसें हैं और न ही प्राईवेट बसें। दशकों गुजरने के बाद भी और ग्रामीणों की मांग के बाद भी आज तक इन रूटों पर बसें नहीं चल पाई। ग्रामीणों के अनुसार बादली क्षेत्र के लगभग तीन दर्जन गांव ऐसे हैं जो अप्रोच मार्गों या लोकल रूटों पर पड़ते हैं। इन गांवों के ग्रामीण वर्षो से अपने निजी वाहनों पर ही आश्रित हैं। ये सभी गांव ऐसे है, जहां प्राइवेट वाहन तक चलना पसंद नहीं करते। आवागमन के साधनो के अभाव में ग्रामीणों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

महिलाओं व बच्चों की हालत तो पैदल चलते-चलते खराब हो जाती है। बादली के आसपास दर्जनो ऐसे गांव हैं जिनकी दूरी बादली से लगभग दो से दस किलोमीटर तक पड़ती है। किसी भी गांव में आवागमन के लिए बसें तो दूर कोई प्राइवेट वाहन तक नहीं है। इन रूटों पर कभी-कभार ग्रामीणों के रोष या मांग पर बसे चली भी तो चंद दिनों बाद ही बंद हो गई। रोडवेज तो दूर प्राइवेट बसे तक नहीं रूटों पर जाना पसंद नहीं करती। अनेकों प्राइवेट बसो को परमिट भी उपरोक्त रूटो पर चलने के लिए दिए गए, लेकिन वे बसें कभी-कभार ही इन रूटों पर चली नहीं तो आज तक नहीं चली। ग्रामीणों ने मांग की है कि क्षेत्र के लोकल रूटों पर बसें चलाई जाए, जिससे ग्रामीणों के साथ-साथ झज्जर, बहादुरगढ़ या बादली के स्कूल कॉलेजों में पढऩे वाले छात्र-छात्राएं भी लाभ उठा सकें और बिना किसी परेशानी के समय पर पहुंच सकें।

ग्रामीण वर्षों से अपने निजी वाहनों पर ही आश्रित

X
लोकल रूटों पर बसें नहीं चलने से ग्रामीण परेशान
Click to listen..