ऐलनाबाद

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Ellenabad
  • पशु मेले में वेश बदल रखी संदिग्धों पर नजर सीआईए ने 3 लुटेरे पकड़े, मास्टर माइंड फरार
--Advertisement--

पशु मेले में वेश बदल रखी संदिग्धों पर नजर सीआईए ने 3 लुटेरे पकड़े, मास्टर माइंड फरार

भास्कर न्यूज | फतेहाबादसिरसा जिला पुलिस के सिरदर्द बने पशु व्यापारियों को लूटने वाला गिरोह आखिरकार पुलिस के...

Dainik Bhaskar

Jan 29, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर न्यूज | फतेहाबादसिरसा

जिला पुलिस के सिरदर्द बने पशु व्यापारियों को लूटने वाला गिरोह आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया। सीआईए ने ऐसा जाल बनाया कि आरोपी खुद ही उनके जाल में फंस गए। सीआईए ने तीन लुटेरों को पशु मेले से ही धर दबोचा। इस दौरान इस गैंग को मास्टर माइंड फरार हो गया।

अब पुलिस इस मामले में उक्त आरोपियों को कोर्ट में पेश कर आज रिमांड पर लेगी। डीएसपी जगदीश काजला ने बताया है कि शहर के धांगड़ फोरलेन रोड पर पशु मेला हर रविवार को लगाया जाता है। इस मेले में जिले के अलावा बाहरी क्षेत्र के किसान व पशु व्यापारी बड़ी संख्या में आते रहते हैं। इस मेले का फायदा लुटेरे उठाते थे जो पशु बेचने वाले किसान व व्यापारी की आरोपी पहले पूरी तरह से रैकी करते थे फिर उसे अपनी गाड़ी में लिफ्ट देने का लालच देकर उसे रास्ते में लूट लेते थे।

आरोपियों ने पहली वारदात को अंजाम 31 दिसंबर को दिया जब भूना क्षेत्र के दो किसान अपना पशु मेले में बेच कर वापस जाने के लिए भूना रोड पर वाहन की इंतजार में खड़े थे। आरोपियों में से एक जो रैकी कर रहा था उसने उक्त किसान को अपनी गाड़ी में बैठाकर उन्हें भूना छोड़ने की बात कही और गांव झलनियां के समीप उनके साथ लूट की वारदात को अंजाम दे डाला। दूसरी बार उक्त आरोपियों ने 21 जनवरी को गांव भूथन के एक किसान को अपना शिकार बनाया जो मेले में अपना पशु बेच कर वापस गांव जाने के लिए भूना मोड़ पर खड़ा था। आरोपियों ने भूथन के किसान कुलदीप को भी ठीक उसी प्रकार से पहले अपनी गाड़ी में लिफ्ट देने की पेशकश कर उसे गाड़ी में बैठाया और फिर ठीक पहले के ही तरह गांव झलनियां के समीप उससे हजारों रुपए नकदी लूट ली। पशु व्यापारियों को लूटने वाले गिरोह से तंग आई जिला पुलिस ने आज जाल बिछाकर उन्हें काबू कर लिया।

ऐलनाबाद के हैं दो आरोपी

आरोपी ऐलनाबाद के रहने वाले बताए गए हैं। जिनमें भगवान सिंह, मेजर सिंह एवं रविंद्र उर्फ बिल्लू शामिल हैं। वहीं आरोपियों का सरगना राजकुमार अभी पुलिस की गिरफ्तार से बाहर है।

सीआईए द्वारा पकड़े हुए पशु विक्रेता से लूटपाट करने के आरोपी।

पुलिस ने ऐसे बिछाया था जाल

पशु व्यापारियों को लूटने की बढ़ती वारदातों से परेशान जिला पुलिस की सीआईए विंग ने आज जाल बिछाया और एक पुलिस कर्मी को पशु विक्रेता बना कर मेले मे भेज दिया जबकि सीआईए की टीम जिसमें सीआईए के एएसआई कृष्ण, एचसी रामअवतार, एचसी सुभाष, एचसी राजेश, प्रदीप कुमार, राजेश कुमार एवं राजेंद्र जो रूप बदल कर मेले में संदिग्ध लोगों पर नजर रख रहे थे, इस दौरान सीआईए की नजर गिरोह के सरगना राजकुमार की गतिविधियों पर गई, जो कि पुलिस द्वारा बनाए गए पशु विक्रेता की रैकी कर रहा था। जैसे ही आरोपी राजकुमार ने जैसे अपने शिकार को चिह्नित किया और उसका पीछा करना शुरु कर दिया और जैसे वह लोग भूना मोड़ के समीप पहुंचे तो राजकुमार ने गाड़ी में बैठे अपने साथियों को सूचना दे दी। जिसके बाद उक्त लोग गाड़ी को पशु मेले से बाहर आने वाले स्थान पर ले आए। इस दौरान आरोपी राजकुमार ने गाड़ी में बैठे अपने लोगों से लिफ्ट देने की पेशकश की और किसान बने पुलिस कर्मी को भी लिफ्ट देने को कहा था तो इस दौरान सीआईए की टीम ने इनोवा में सवार होकर आए तीनों आरोपियों को दबोच लिया। वहीं इस दौरान मुख्य आरोपी राजकुमार फरार हो गया। पूछताछ के दौरान तीनों आरोपियों ने लूट की दोनों वारदातों को कबूल कर लिया। आज आरोपियों को कोर्ट में पश कर रिमांड लिया जाएगा और बरामदगी की जाएगी।

X
Click to listen..