Hindi News »Haryana »Ellenabad» सिविल अस्पताल में तीन महीनों से नहीं हीमोफीलिया की दवा

सिविल अस्पताल में तीन महीनों से नहीं हीमोफीलिया की दवा

जिला में हीमोफीलिया रोग से पीड़ित 110 रोगी हैं। लेकिन पिछले तीन महीनों से सिविल अस्पताल में हीमोफीलिया से बचाव के लिए...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 16, 2018, 02:25 AM IST

जिला में हीमोफीलिया रोग से पीड़ित 110 रोगी हैं। लेकिन पिछले तीन महीनों से सिविल अस्पताल में हीमोफीलिया से बचाव के लिए जीवन रक्षक दवा उपलब्ध नहीं है। दवा के अभाव में जिले की मंडी डबवाली में रहने वाले एक हीमोफीलिया रोगी की बीते दिनों मौत भी हो चुकी है और शेष रोगियों को इस रोग की दवा के लिए दर-दर भटकना पड़ता है। सिविल अस्पताल में अगर यह दवा हो तो वह रोगी को मुफ्त दी जाती है, लेकिन प्राइवेट तौर पर इस दवा का एक इंजेक्शन कम से कम 5 हजार रुपये में खरीदना पड़ रहा है। इसलिए हीमोफीलिया रोगियों को काफी परेशानी हो रही है। वे दवा खरीदने में असमर्थ हैं।

मेरे पापा लाते हैं बड़ी मुश्किल से मेरे लिए हीमोफीलिया से बचाव की दवा

जिले के गांव साहुवाला प्रथम में हीमोफीलिया रोग से जूझ रहे 17 वर्षीय संयम शर्मा पुत्र अवतार शर्मा ने बताया कि वह जन्म से ही हीमोफीलिया से पीड़ित है। मेरे पापा मेरी दवा का इंतजाम प्राइवेट तौर से करते हैं। सिविल अस्पताल में तो पिछले तीन महीनों से हीमोफीलिया से बचाव करने वाली जीवन रक्षक दवा है ही नहीं। दवा एक इंजेक्शन है एक इंजेक्शन की कीमत 5 हजार रुपये है। कभी-कभार तो ऐसी भी स्थिति हो जाती है कि एक ही बार में चार या पांच इंजेक्शन लगाने पड़ते हैं। अब इतने पैसे कहां से लाएं।

दवा के अभाव की वजह से डबवाली में हीमोफीलिया पीड़ित रोगी की जा चुकी है जान, जिले में 110 हीमोफीलिया रोगी

सिविल अस्पताल से ही दवा लूंगा नहीं हैं बाहर से लेने के पैसे

ऐलनाबाद में हीमोफीलिया से पीड़ित परविंद्र ने बताया कि अगर सिरसा के सिविल अस्पताल से दवा मिलेगी तो लेता रहूंगा। महंगी दवा खरीदने के लिए रुपये मेरे पास है नहीं। डबवाली में भी युवा दीपक की मौत दवा के अभाव में हो चुकी है। नेशनल हेल्थ मिशन की अोर से सिरसा के सिविल अस्पताल के ट्रामा सेंटर में हीमोफीलिया रोग से बचाव के लिए जीवन रक्षक दवा आती रही है लेकिन पिछले तीन महीनों से दवा नहीं आ रही है।

मुख्यालय भेजी है दवा की डिमांड

हीमोफीलिया रोग से बचाव करने वाली जीवन रक्षक दवा महंगी होती है। फिलहाल सिविल अस्पताल में यह दवा उपलब्ध नहीं है। इस दवा की डिमांड मुख्यालय के पास भेजी हुई है। उम्मीद है जल्द ही दवा आ जाएगी। -डॉ. गोबिंद गुप्ता, सिविल सर्जन, सिरसा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ellenabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×