Hindi News »Haryana »Ellenabad» कृषि सम्मेलन में जाएंगी रोडवेज की 81 बसें तीन दिन तक यात्रियों को आएगी दिक्कत

कृषि सम्मेलन में जाएंगी रोडवेज की 81 बसें तीन दिन तक यात्रियों को आएगी दिक्कत

हरियाणा रोडवेज की बसों में यात्रा करने वाली यात्रियों के लिए तीन दिन यात्रा करने में परेशानी होगी। ऐसा इसलिए...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 24, 2018, 04:05 AM IST

कृषि सम्मेलन में जाएंगी रोडवेज की 81 बसें तीन दिन तक यात्रियों को आएगी दिक्कत
हरियाणा रोडवेज की बसों में यात्रा करने वाली यात्रियों के लिए तीन दिन यात्रा करने में परेशानी होगी। ऐसा इसलिए क्योंकि रोहतक में शनिवार से लेकर 26 मार्च तक होने वाले कृषि सम्मेलन होना है। सम्मेलन में किसानों की भीड़ जुटाने के लिए प्रदेश के सभी जिलों से किसानों को लाने और उनको वापस भेजने के लिए सरकार ने हरियाणा रोडवेज की कुल 6000 बसों की नि:शुल्क व्यवस्था की है। सिरसा जिले से 81 बसों के जरिए किसानों को भेजा जाएगा। जाहिर है ये तीन दिन बसों में यात्रा करने वाले लोगों के परेशानी का सबब बनेंगे।

बता दें, सिरसा और डबवाली डिपो से रोहतक सम्मेलन के लिए रोडवेज बसों की बुकिंग की गई है। जिले में कुल 177 बसें हैं। उनमें से 156 बसें रूटीन में निर्धारित रूट पर रहती हैं। शनिवार को 20, रविवार को 41 और सोमवार को 20 बसें सिरसा से रोहतक जाएंगी। ऐसे में सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि इन तीनों दिनों में बस यात्रियों की स्थिति क्या होगी। विभिन्न 8 लोकल रूटों पर रोडवेज बसों के तीन दिनों तक फेरे ही नहीं लग सकेंगे। अब सवाल यह भी उठता है कि क्या इन तीन दिनों के लिए रोडवेज प्रशासन ने कोई वैकल्पिक व्यवस्था की है यात्रियों की सुविधा के लिए ? वैकल्पिक व्यवस्था भी तब हो सकेगी जब रोडवेज के संबंधित अधिकारियों को इस बारे में सोचने की फुर्सत मिलेगी। शुक्रवार को भी सभी संबंधित अधिकारी और कर्मचारी कृषि सम्मेलन के लिए रोहतक में बसें भिजवाने का इंतजाम करने की जद्दोजहद में ही जुटा नजर आया। सिरसा डिपो के 25 कंडक्टरों की छुट्टियां रद्द कर ड्यूटी पर बुला लिया। इतना ही नहीं ट्रेनिंग स्कूल के प्रशिक्षणार्थियों की नाइट शिफ्ट रद्द कर 7 ड्राइवरों की ड्यूटी भी रोहतक जाने वाली बसों में लगा दी।

रोहतक में होने वाले कृषि सम्मेलन में किसानों को लेकर जाने के लिए तैयार खड़ी रोडवेज बसंे।

नाइट स्टे वाली बसों को नहीं होने देंगे मिस

रोडवेज डिपो में डीआई राकेश कुमार ने बताया कि चालक-परिचालकों की बेहद कमी है। हालांकि रोहतक में होने वाले तीन दिवसीय कृषि सम्मेलन के लिए बसें भिजवाने का इंतजाम येन-केन-प्रकारेण करवा दिया है। यह भी प्रयास रखा गया है कि जिला ग्रामीण क्षेत्र में नाइट स्टे करने वाली बसों को मिस नहीं होने देंगे।

लोकल रूटों पर आ सकती है परेशानी

मुख्यालय के निर्देशानुसार 81 बसें रोहतक में होने वाले कृषि सम्मेलन में सिरसा से भेजी जाएंगी। इन बसों को विभिन्न लोकल रूटों से उतारा गया है। निस्संदेह लोकल रूटों पर बसें न जाने से यात्रियों को परेशानी होगी। ’’ -दिनेश कुमार, ट्रैफिक इंचार्ज, रोडवेज डिपो, सिरसा

आज ये लोकल रूट होंगे प्रभावित

कृषि सम्मेलन के पहले दिन यानि शनिवार को सिरसा जिले में रोडवेज की 20 बसों के अभाव में जो लोकल रूट प्रभावित होंगे उनमें सिरसा से ऐलनाबाद, सिरसा से खारियां, सिरसा से चौपटा भादरा, सिरसा से कुतियाना, सिरसा से हिसार-डबवाली, सिरसा से रानियां-बणी, सिरसा से डबवाली, सिरसा से कालांवाली-बड़ागुढ़ा रूट शामिल हैं।

कर्मचारी नेताओं ने जताया एतराज

हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन संबंधित सर्व कर्मचारी संघ के मुख्य सलाहकार मदनलाल खोथ ने कहा कि सरकार रोडवेज बसों का गलत इस्तेमाल करा रही है। सहकारी परिवहन समिति की बसें विभिन्न रूटों पर मुनाफा कमाती हैं, इसलिए इन समितियों की बसें इस्तेमाल में लानी चाहिए।

किसानों को मिलेंगी नई जानकारियां

कृषि उपनिदेशक डॉ. बाबू लाल ने बताया कि कृषि सम्मेलन में विभिन्न कृषि वैज्ञानिकों की ओर से किसानों को कृषि क्षेत्र की नई तकनीकों, उपकरणों, जैविक खेती और पशुपालन सहित अन्य महत्वपूर्ण सरकारी योजनाओं की भी जानकारी दी जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ellenabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×