• Hindi News
  • Haryana News
  • Ellenabad
  • गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर जेसीडी विद्यापीठ में कार्यक्रम
--Advertisement--

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर जेसीडी विद्यापीठ में कार्यक्रम

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर गुरुवार को जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित मैमोरियल कॉलेज में सांस्कृतिक...

Dainik Bhaskar

Jan 26, 2018, 02:05 PM IST
गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर गुरुवार को जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित मैमोरियल कॉलेज में सांस्कृतिक कार्यक्रम का धमाल हुआ। विद्यापीठ के शैक्षणिक निदेशक डॉ. आरआर मलिक मुख्यअतिथि थे। जबकि अध्यक्षता जेसीडी मैमोरियल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. प्रदीप स्नेही ने की।

सांस्कृतिक कार्यक्रम के प्रारंभ में विद्यार्थियों ने देशभक्ति से ओतप्रोत समूहगान प्रस्तुत किया। जबकि छात्रा खुशी ने नृत्य प्रस्तुत किया और छात्र दुशाल ने देशभक्ति से ओतप्रोत कश्मीर समस्या पर कविता सुनाई। छात्रा रितु ने एकल नृत्य किया तो बीएसएसी की छात्राओं ने समूह नृत्य किया। जबकि फार्मेसी कॉलेज के विद्यार्थियों ने भंगड़ा प्रस्तुत किया गया और सुपिंद्र कौर व निशा ने सोलो डांस किया। बीएमसी की छात्रा पूनम ने वेस्टर्न डांस किया तो शिक्षण महाविद्यालय के छात्र जितेंद्र व प्रकाश ने हरियाणवी भाषा में देशभक्ति की झलक दिखाते हुए नृत्य व गायन प्रस्तुत किया। उधर जेसीडी आईबीएम के विद्यार्थियों ने देशभक्ति पर आधारित कोरियोग्राफी प्रस्तुत की। कार्यक्रम में विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्य डॉ. जयप्रकाश, डॉ. विनय लाठर, डॉ. हिमांशु मोंगा, डॉ. कुलदीप सिंह, इंजीनियर आरएस बराड़ मौजूद थे।

संगीत एवं सांस्कृतिक समारोह ‘सुर संवाद -2018 सफलतापूर्वक संपन्न

ऐलनाबाद | चौ. मनीराम झोरड़ राजकीय महाविद्यालय मिठी सुरेरां में आयोजित दो दिवसीय संगीत एवं सांस्कृतिक समारोह ‘सुर संवाद -2018 सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. प्रेम चंद कंबोज समारोह के मुख्य अतिथि थे, जबकि समारोह की अध्यक्षता डॉ. शीशपाल हरडू ने की।

कार्यक्रम में महाविद्यालय की सह-पाठ्यक्रम गतिविधियों के समन्वयक डॉ. हरविंदर सिंह ने सुर-संवाद समारोह के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। मुख्य अतिथि डॉ. प्रेमचंद कंबोज ने अपने विद्यार्थियों से आह्वान किया, कि वे नशे और हथियारों को बढ़ावा देने वाले और दूसरों की गरिमा के साथ खिलवाड़ करते गीतों को न केवल नकारें बल्कि इनका विरोध भी करें। डॉ. शीशपाल हरडू ने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे शिक्षा के साथ-साथ सह पाठ्यक्रम गतिविधियों में भी रूचित हों। सह पाठ्यक्रम गतिविधियां विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैंं। समारोह का मंच संचालन महाविद्यालय की सांस्कृतिक गतिविधियों के प्रभारी प्रो. स्मृति कंबोज कर रही थी। निर्णायक मंडल की भूमिका प्रो. अमनप्रीत कौर, प्रो. सुरेश कुमारी व प्रो. कुलजीत कौर ने निभाई।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..