--Advertisement--

सरकारी और निजी स्कूलों में लगाए टीके

गांव कागदाना के एनसीएम स्कूल में गुरुवार को को राष्ट्रीय एमआर टीकाकरण अभियान के तहत स्कूली बच्चों को ‘खसरा और...

Dainik Bhaskar

May 05, 2018, 02:20 AM IST
गांव कागदाना के एनसीएम स्कूल में गुरुवार को को राष्ट्रीय एमआर टीकाकरण अभियान के तहत स्कूली बच्चों को ‘खसरा और रुबेला के टीके लगाए गए। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग की तरफ से एएनएम परमजीत, मनोरमा, सुमन देवी व निर्मला ने स्कूल के 720 बच्चों को टीके लगाए।

यह जानकारी देते हुए विद्यालय के प्राचार्या संजीव पूनिया ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पहले स्कूली बच्चों को खसरा एवं रुबेला रोग के संबंध में विस्तार से जानकारी देेते हुए उक्त टीकाकरण के फायदे बताए। वहीं बाद में टीकाकरण अभियान शुरू किया। उन्होंने बताया कि स्कूल के सभी बच्चों ने सहर्ष टीके लगवाए। इस दौरान स्कूल प्रबंधन कमेटी की तरफ से सभी स्वास्थ्य विभाग की टीम को स्मृत चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर स्कूल के प्राचार्य संजीव पूनिया, एमडी राजेंद्र टोकसिया, प्रधान सुभाष जाखड़, सुखदेव टोकसिया, रमेश लिम्बा, पवन शर्मा, सुनील शास्त्री, रामकुमार, बलवान, धर्मवीर मौजूद थे। वहीं खंड के गांव गुड़िया खेड़ा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में भी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने खसरा और रुबेला रोग की रोकथाम के टीके स्कूली बच्चों को लगाए

डीएवी स्कूल में टीकाकरण

ऐलनाबाद | राष्ट्रव्यापी अभियान के अन्तर्गत शुक्रवार को शहर के डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल में खसरा तथा रुबेला के प्रति सुरक्षा प्रदान करने के लिए टीकाकरण अभियान चलाया गया। जिसके तहत विद्यालय में पढऩे वाले 15 वर्ष तक आयु वर्ग के विद्यालय के 550 विद्यार्थियों को टीका लगाया गया। इस अभियान में सरकारी अस्पताल प्रभारी डॉ. हरप्रीत कौर, डा. अतुल गिजवानी, आशा वर्कर किरण, सीमा, अनिता व सीमा रानी की टीम ने अपनी सेवाएं दी। डॉ. हरप्रीत कौर ने बताया कि खसरा रोग के सफाये व रुबेला को नियंत्रित करने के लिए 9 माह से 15 वर्ष तक के बच्चों को यह टीका दिया जाना अति आवश्यक है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..