फरीदाबाद

--Advertisement--

जहां रेप का आरोप, वहां नहीं थे कैमरे, आरोपी की पहचान नहीं

नीमकाजेल में जिस जगह महिला रेप होने का आरोप लगा रही है, वहां सीसीटीवी कैमरे ही नहीं थे।

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2017, 08:03 AM IST
Cameras not in jail
फरीदाबाद। नीमकाजेल में जिस जगह महिला रेप होने का आरोप लगा रही है, वहां सीसीटीवी कैमरे ही नहीं थे। इसलिए यह पता नहीं लग पाया है कि घटनास्थल पर क्या हुआ था। इसके अलावा अन्य जगह लगे कैमरों में महिला की तस्वीर भी साफ नहीं रही है। यह सब पहलू पुलिस की जांच को प्रभावित कर रहे हैं। इस बात का खुलासा गुरुवार को नीमका जेल गई पुलिस टीम ने किया। अहम बात यह भी है कि पुलिस यह भी पता नहीं कर सकी है कि आरोपी सिपाही कौन है। यहां तक कि पुलिस ने शिनाख्त परेड भी नहीं कराई है। पता लगा है कि पुलिस ने महिला के बयान कोर्ट में करा दिए हैं। उधर घटना की सूचना मिलने पर जेल आईजी जगजीत सिंह आए और अधिकारियों के साथ मीटिंग ली। उन्होंने घटना को लेकर गहन चर्चा की।
ऐसेहुई थी घटना
पलवलनिवासी एक महिला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि मंगलवार को वह नीमका जेल में बंद अपने देवर से मिलने आई थी। मिलाई के दौरान उसके देवर ने उससे कहा कि पुलिस वाले उसे रोज 5 मिनट तक बात करा सकते हैं। इसके बाद वह बाहर आने लगी। बीच में ही एक सिपाही ने उसे रोक लिया और कहा कि वह उसका नंबर ले ले। इसके बाद वह उसकी रोज देवर से बात करा दिया करेगा। महिला ने उसका नंबर नोट कर लिया। इसी दौरान सिपाही ने उसे पकड़ लिया और उसके साथ रेप किया।
फरीदाबाद. नीमकाजेल
^जेल में चारों तरफ सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जेल आईजी आए थे। उन्हें जेल के अंदर प्रबंधों के बारे में अवगत करा दिया गया है। -अनिलकुमार, अधीक्षक, नीमका जेल।
जांच में क्या आया सामने
नीमकाजेल के अधीक्षक अनिल कुमार ने दावा किया था कि जहां घटना हुई, वहां कैमरे लगे हुए हैं। लेकिन जब एसीपी तिगांव बलवीर सिंह जांच के लिए पहुंचे तो ऐसा कुछ नहीं था। खुद एसीपी ने कहा कि अब घटना से संबंधित कुछ तथ्य सील कर जांच के लिए मधुबन भेज दिए हैं। वहां से रिजल्ट आने के बाद कुछ परिणाम सामने आएंगे। एसीपी के अनुसार अभी तक यह पता नहीं लग सका है कि आरोपी कौन है। पुलिस मामले की हर पहलू से जांच कर रही है।
X
Cameras not in jail
Click to listen..