फरीदाबाद

--Advertisement--

सुरक्षा सख्त: कोसीकलां और मथुरा तक चलने वाली शटलों के महिला कोच में जीआरपी तैनात

महिलाओं पर छींटाकशी करने वाले लोगों की धरपकड़ के लिए जीआरपी ने दोनों ट्रेनों में जवान तैनात कर दिए हैं।

Danik Bhaskar

Dec 16, 2017, 08:21 AM IST

फरीदाबाद. शाम के वक्त कोसीकलां और मथुरा जाने वाली शटलाें के महिला कोच में शरारती तत्वों के बैठने और महिलाओं पर छींटाकशी करने वाले लोगों की धरपकड़ के लिए जीआरपी ने दोनों ट्रेनों में जवान तैनात कर दिए हैं। जीआरपी जवान शाम के वक्त फरीदाबाद से लेकर होडल तक ट्रेन को स्कार्ट करते हैं। पिछले दिनों दैनिक भास्कर ने महिला याित्रयों की सुरक्षा में हो रही लापरवाही को लेकर कई खबरें प्रकाशित की थीं।

11 दिसंबर को फरीदाबाद पहली बार निरीक्षण करने आए जीआरपी के डीजी के. सेल्व राज के सामने भी दैनिक भास्कर ने इस समस्या को प्रमुखता से उठाते हुए महिला कोच में सुरक्षा सुनिश्चित करने की गुजारिश की थी। डीजी ने डीएसपी माेिहंदर कुमार को आदेश भी दिया था। जीआरपी ने दो दिन पहले ही दोनों ट्रेनों में महिला कोच में जीआरपी जवानों की ड्यूटी लगाकर उसे होडल तक स्कार्ट कराना शुरू कर दिया है।


चार साल पहले आरपीएफ ने फरीदाबाद सेक्शन से गुजरने वाली शटलों की महिला कोच का सर्वे कराया था। इसमें सबसे अधिक असुरक्षित ट्रेन के रूप में 64904 पहली मथुरा शटल और 64910 दूसरी मथुरा शटल पाई गई थी। इसके अलावा पलवल से आगे जाने वाली अन्य ट्रेनों का ऐसा ही हाल था। इसमें गािजयाबाद कोसीकलां 64902 भी शामिल है। दैनिक भास्कर ने कई ट्रेनों की जांच पड़ताल कर महिलाओं की सुरक्षा पर सवाल उठाया था। जीआरपी के डीजी के सामने भी समस्या काे प्रमुखता से रखा। डीजी के आदेश पर जीआरपी ने 64902 गाजियाबाद कोसीकलां शटल और 64910 नई दिल्ली मथुरा शटल में दो जीआरपी जवान स्कार्ट के लिए लगा दिए हैं। अब सुबह-शाम दोनों वक्त ट्रेन को फरीदाबाद से होडल तक स्कार्ट किया जा रहा है।

हेल्पलाइन नंबर 1512 पर फोन करने की अपील
जीआरपी के थाना प्रभारी पोरस कुमार ने कहा कि दो ट्रेनों में जीआरपी जवानों को महिलाओं की सुरक्षा के लिए लगा दिया गया है। शाम को मथुरा की ओर जाते समय और सुबह फरीदाबाद की ओर आते समय ट्रेनों को स्कार्ट किया जा रहा है। उन्होंने महिला याित्रयों से अपील करते हुए कहा है कि सफर में किसी प्रकार की असुिवधा होने पर वह जीआरपी के हेल्पलाइन नंबर 1512 पर फाेन कर सूचना दे सकती हैं। उन्हें तत्काल जीआरपी की सहायत मिलेगी।

Click to listen..