--Advertisement--

3 घंटे तक कार के अंदर ऐसा दबा रहा ड्राइवर, हाईवा हटी तो निकला जिंदा बाहर

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2017, 06:52 AM IST

सूरजकुंडरोड पर एक्सीडेंट के दौरान पुलिस-पब्लिक को करिश्मा देखने को मिला।

3 घंटे बाद कार ड्राइवर को जिंदा बाहर निकाल लिया गया। 3 घंटे बाद कार ड्राइवर को जिंदा बाहर निकाल लिया गया।

फरीदाबाद। सूरजकुंडरोड पर एक्सीडेंट के दौरान पुलिस-पब्लिक को करिश्मा देखने को मिला। एमवीएन नाके के पास पाली रोड पर कंक्रीट से भरा मिक्सर हाईवा ओवरटेक करने के चक्कर में आईटेन कार पर पलट गया। वजनदार वाहन गिरने से कार पिचकती चली गई। शुक्र रहा कि कार के अंदर युवक भी पूरा लेट गया और उसकी जान बच गई। तीन क्रेन कटर की मदद से युवक को सकुशल बाहर निकाला...

- राहगीर ने 100 नंबर पर फोन कर सूचना दी। करीब 8 मिनट बाद ही सूरजकुंड थाना अंखीर चौकी से कई पुलिसकर्मी मौके पर आए और तीन क्रेन कटर की मदद से युवक को सकुशल बाहर निकाला।

- हालांकि उन्हें चोटें आई हैं लेकिन खतरे से बाहर हैं। सूरजकुंड थाना पुलिस ने आरोपी हाईवा ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
- पुलिस ने तीन क्रेन बुलाई और काफी मशक्कत के बाद युवक को बाहर निकाला।

ऐसे हुई घटना
- सूरजकुंड थाने के हेडकांन्स्टेबल शमशेर सिंह के अनुसार 10.15 बजे उनके पास कंट्रोल रूम से वीटी आई कि एमवीएन नाके के पास पाली जाने वाली रोड पर एक हाईवा कार पर पलट गया है।

- वे मौके पर पहुंचे। उन्होंने देखा कि कंक्रीट से भरा हुआ हाईवा आईटेन कार पर पलटा हुआ है। वजन से पूरी कार पिचकी हुई थी। अंदर पता नहींं लग रहा था कि कोई जिंदा है या नही।

- कुछ पल में बचाने की गुहार लगाने की आवाज आई। तुरंत कटर मंगाया, तीन क्रेन बुलाई और काफी मशक्कत के बाद युवक को बाहर निकाला।

पत्नी को छोड़कर रहा था वापस
- हेड कांन्स्टेबल के मुताबिक 30 साल के रितेश कुमार की पिछले साल ही शादी हुई है। उनकी पत्नी पाली स्थित किसी ऑफिस में काम करती है और वह खुद गुड़गांव के ताज होटल में काम करते हैं।

- बुधवार सुबह वे पत्नी को ऑफिस छोड़कर वापस रहे थे। एमवीएन नाके से थोड़ा पहले पाली रोड पर पीछे से रहे एक कंक्रीट मिक्सर हाईवा ने उनकी कार को ओवरटेक किया।

- इस दौरान साइड लगने से कार साइड में पलट गई। क्षणभर में ही हाईवा भी कार के ऊपर पलट गया। जिसमें रितेश दब गया। शुक्र रहा कि वह कार के पिचकते ही खुद भी लंबा होकर लेट गया था। इस कारण उनकी जान बच सकी।

कार के अंदर दबा व्यक्ति अपनी पत्नी को ऑफिस छोड़कर वापस आ रहा था। कार के अंदर दबा व्यक्ति अपनी पत्नी को ऑफिस छोड़कर वापस आ रहा था।
लोगों और पुलिस ने तीन क्रेन की मदद से व्यक्ति को बाहर निकाला। लोगों और पुलिस ने तीन क्रेन की मदद से व्यक्ति को बाहर निकाला।
X
3 घंटे बाद कार ड्राइवर को जिंदा बाहर निकाल लिया गया।3 घंटे बाद कार ड्राइवर को जिंदा बाहर निकाल लिया गया।
कार के अंदर दबा व्यक्ति अपनी पत्नी को ऑफिस छोड़कर वापस आ रहा था।कार के अंदर दबा व्यक्ति अपनी पत्नी को ऑफिस छोड़कर वापस आ रहा था।
लोगों और पुलिस ने तीन क्रेन की मदद से व्यक्ति को बाहर निकाला।लोगों और पुलिस ने तीन क्रेन की मदद से व्यक्ति को बाहर निकाला।
Astrology

Recommended

Click to listen..