--Advertisement--

मुठभेड़ में पकड़े इंजीनियर की हत्यारोपियों ने कबूली 15 वारदातें, लूट, हत्या के मामलों का हुआ खुलासा

यह जानकारी डीएसपी मौजीराम ने गुरुवार को पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में दी।

Danik Bhaskar | Dec 22, 2017, 08:22 AM IST

फरीदाबाद। बुधवारदेर शाम होडल थाना प्रभारी संतोष कुमार सीआईए होडल प्रभारी विश्व गौरव की टीमों ने हत्या, लूट स्नेचिंग की दर्जनों वारदातों में शामिल तीन आरोपियों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। यह जानकारी डीएसपी मौजीराम ने गुरुवार को पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता में दी।


डीएसपी मौजीराम ने बताया कि 20 दिसंबर को होडल थाना प्रभारी संतोष कुमार को सूचना मिली की जघन्य अपराध, हत्या, लूट स्नेचिंग में वांछित अपराधी दो दिसंबर को बेढ़ा पट्टी निवासी सुरेंद्र इंजीनियर की गोली मारकर हत्या करके फरार हुए आरोपी होडल निवासी जीतू उर्फ जितेंद्र, राजेश उर्फ टूंडल प्रशांत उर्फ परमा गांव मोहना के पास सेलेरियो गाड़ी में देखे गए हैं। डीएसपी ने बताया कि सूचना के आधार पर होडल थाना प्रभारी उप निरीक्षक संतोश कुमार सीआईए होडल इंचार्ज निरीक्षक विश्व गौरव अपनी-अपनी टीमों के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने बताया कि चांदहट थाना पुलिस ने एडी पब्लिक स्कूल के पास नाका लगा दिया। आरोपियों और पुलिस के बीच गोलीबारी हुई। एक गोली चांदहट थाना की पीसीआर नंबर सात में लगी तथा एक गोली होडल थाना प्रभारी संतोष की गाड़ी में लगी। इसी दौरान पुलिस ने छह राउंड गोली चलाई, जिनमें से एक गोली आरोपी जीतू के पैर में लगी।


इसके बाद पुलिस ने जीतू, राजेश परमा को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से दो देशी पिस्तौल 8 जिंदा कारतूस एक चोरी की सेलेरियो गाड़ी बरामद की है। डीएसपी मौजीराम ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ जिले के विभिन्न 14 मामले दर्ज हैं, जिनमें से छह गिरफ्तार होकर जमानत पर है और आठ मामलों में तलाश थी।