--Advertisement--

जेल में महिला से रेप किया था सिपाही ने, हंगामे के बाद पुलिस ने दर्ज किया केस

महिला को उसका नाम नहीं पता लेकिन वह सामने आने पर पहचानने का दावा कर रही है।

Dainik Bhaskar

Dec 28, 2017, 08:20 AM IST
Police filed case after riot

फरीदाबाद. नीमका जेल में देवर से मिलने आई महिला से सिपाही ने रेप किया था। इस बात का खुलासा बुधवार को महिला ने किया। इसी बात को लेकर मंगलवार देररात तक नीमका जेल में महिला के परिजनों ने खूब हंगामा किया। इसके बाद पुलिस को केस दर्ज करना पड़ा। थाना सदर बल्लभगढ़ पुलिस ने महिला की शिकायत पर धारा 342, 376बी, 377 के तहत केस दर्ज कर लिया है। पुलिस की टीम मामले की जांच कर रही है। आरोपी सिपाही की पहचान नहीं हो सकी है। महिला को उसका नाम नहीं पता लेकिन वह सामने आने पर पहचानने का दावा कर रही है।

देवरसे आई थी मिलने : महिलाने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि मंगलवार को वह नीमका जेल में बंद अपने देवर से मिलने आई थी। उसका भाई भी उसके साथ था। मिलाई के दौरान उसके देवर ने उससे कहा कि पुलिस वाले उसे रोज 5 मिनट तक बात करा सकते हैं। इसके बाद वह बाहर आने लगी। बीच में ही एक सिपाही ने उसे रोक लिया और कहा कि वह उसका नंबर ले ले, इसके बाद वह उसकी रोज देवर से बात करा दिया करेगा। महिला ने उसका नंबर नोट कर लिया। इसी दौरान सिपाही ने उसे पकड़ लिया और उसके साथ रेप किया। चिल्लाने पर भी उसकी मदद को कोई अंदर नहीं आया। बाहर आकर उसने अपने भाई को इस बारे में बताया।

इसके बाद इसकी सूचना अन्य परिजनों को दी। मौके पर काफी लोग जमा हो गए। लोगों ने कई घंटे तक नीमका जेल परिसर में हंगामा किया। परिजनों ने पुलिस पर अपने कर्मचारी को बचाने का आरोप लगाया। मौके पर पहुंचे एसएचओ हंसराज ने लोगों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत किया। इसके बाद देर रात एफआईआर दर्ज की गई।

घटना के बाद क्राइम आॅफ सीन टीम के साथ डीसीपी बल्लभगढ़ विष्णु दयाल, एसीपी तिगांव बलबीर सिंह, एसएचओ सदर बल्लबगढ हंसराज, महिला निरीक्षक इंदू बाला और पीड़ित महिला के साथ नीमका जेल पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया। टीम ने पीड़ित महिला के द्वारा बताए गए घटना स्थल की गहनता से जांच की गई। सीसीटीवी फुटेज की गहनता से जांच की गई ड्यूटी से संबंधित कैदियों से मिलाई से संबंधित रिकार्ड चैक किए गए। पुलिस के अनुसार इस संबंध में गहनता से जांच जारी है। घटना वाले दिन की अन्य कैदियों से मुलाकात करने वाले परिजनों से इस केस की जांच के संबंध में संपर्क किया जा रहा है।

जेल में फिर मिला फोन
नीमका जेल के डीसीपी सचिन कुमार के अनुसार 26 दिसंबर को मच्छगर गांव निवासी आकाश उर्फ चुम्मा और देवली गांव निवासी ललित के पास से मोबाइल फोन बरामद किया गया। पुलिस ने दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है।


पीड़िता की शिकायत पर महिला लीगल एडवाइजर के सम्मुख बयान करा कर थाना सदर बल्लभगढ़ में केस दर्ज कर लिया गया है। आगे तफ्तीश जारी है। आरोपी कर्मचारी की शीघ्र ही पहचान करके गिरफ्तार कर लिया जाएगा। -हंसराज, एसएचओ, सदर बल्लभगढ़ थाना।

X
Police filed case after riot
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..